भारत-इंग्लैंड के बीच 'वैसलीन' विवाद

इमेज कॉपीरइट Getty

भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरे टेस्ट में ‘वैसलीन विवाद’ ने तूल पकड़ लिया है.

भारतीय टीम ने इस विवाद पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा है कि वो इन विवादों में नहीं जाना चाहते और खेल पर ध्यान देना चाहते हैं.

असल में यह मामला वीवीएस लक्ष्मण से जुड़ा हुआ है. लक्ष्मण जब बल्लेबाज़ी कर रहे थे तो गेंद उनके बल्ले के पास से निकली. स्टुअर्ड ब्राड ने अपील लेकिन अंपायर ने नॉट आउट करार दिया.

इसके बाद इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने टीका टिप्पणी करनी शुरु की. बात यहां तक पहुंची कि अंपायर ने लक्ष्मण का बैट छूकर देखा कि क्या बैट के बाहरी किनारों पर वैसलीन तो नहीं लगा हुआ है.

स्टुअर्ड ब्रॉड ने दिन का खेल खत्म होने के बाद हुई प्रेस कांफ्रेंस में साफ किया कि लक्ष्मण के बैट पर कुछ भी तरल पदार्थ नहीं था और उन्होंने खुद लक्ष्मण का बैट पास से देखा है.

मामला खत्म हो गया लेकिन इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने ट्विटर के ज़रिए लक्ष्मण पर आरोप लगाए कि वो बैट के बाहरी किनारे पर वैसलीन लगाते हैं ताकि कैमरा बाहरी किनारे को पकड़ न सके.

मामला कमेंट्री बॉक्स तक पहुंचा और कमेंटेटरों के बीच भी तूतू मैं मैं हो गई. रवि शास्त्री ने यहां तक कहा कि इंग्लैंड भारत के नंबर वन रैंकिंग से जलता है.

सुनील गावस्कर ने कहा कि लक्ष्मण को वॉन के ख़िलाफ कोर्ट में जाना चाहिए क्योंकि वॉन उन पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं.

हालांकि वॉन ने बाद में ट्विट किया कि भारतीय लोग मज़ाक नहीं समझ रहे हैं. हालांकि मामला तूल पकड़ चुका है लेकिन भारतीय टीम ने इस पर कोई आधिकारिक टिप्पणी नहीं की है.

संबंधित समाचार