नंबर एक का ताज दाँव पर

सचिन तेंदुलकर इमेज कॉपीरइट AP
Image caption तेंदुलकर के साथ ही पूरी टीम ने इस मैच के लिए जमकर अभ्यास किया है

बर्मिंघम में हिंसा की घटनाओं के बावजूद भारत और इंग्लैंड की टीमें तीसरे क्रिकेट टेस्ट की तैयारी कर रही हैं जहाँ भारत की नंबर एक रैंकिंग दाँव पर लगी है.

शहर में कुछ दुकानों पर लूटपाट हुई थी मगर इंग्लैंड के कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने 'पूरी उम्मीद' जताई कि मैच तय समयानुसार होगा.

स्ट्रॉस ने कहा, "ये अधिकारियों को तय करना है कि मैच कराना सुरक्षित है या नहीं मगर हमें ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है कि ये सुरक्षित नहीं है."

दोनों टीमों का अभ्यास का वीडियो

इंग्लैंड की टीम ने बिना किसी परेशानी के मंगलवार को नेट में अभ्यास किया.

इससे पहले सुरक्षा टीम की सलाह के बाद स्ट्रॉस सहित पूरी इंग्लैंड की टीम ने सोमवार की रात होटल में ही बिताई थी.

स्ट्रॉस ने कहा, "हमें क्रिकेट खेलने की तैयारी करनी है. इस समय जो भी हो रहा है उससे निबटने की ज़िम्मेदारी दूसरों की है पर और जो भी हो रहा है अगर हम लोगों का ध्यान उससे हटा पाएँ तो ये अच्छी बात होगी."

सुरक्षा

उनका कहना था, "निश्चित ही ये हमारे देश का सबसे गौरवशाली क्षण तो नहीं है. जब आप टेलीविज़न पर वो सब कुछ देखते हैं तो लगता है कि कितना डरावना है मगर उसने टेस्ट के लिए हमारी तैयारी पर असर नहीं डाला है."

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का कहना है कि वह ये फ़ैसला 'संबंधित अधिकारियों' पर छोड़ते हैं कि टेस्ट होना है या नहीं.

"हम क्रिकेटर हैं ऐसे पेशेवर नहीं जो सुरक्षा के बारे में जानते हों इसलिए ये सब हम उन्हीं पर छोड़ते हैं. हमारे लिए सबसे अच्छी चीज़ तो यही है कि हम मैच की अच्छी तैयारी करें."

तेज़ गेंदबाज़ क्रिस ट्रेमलेट को पीठ की चोट की वजह से टीम से बाहर होना पड़ा है और उनके नहीं होने से इस टेस्ट में टिम ब्रेसनेन की जगह तय हो गई है.

ट्रेंट ब्रिज टेस्ट में इंग्लैंड को मिली 319 रनों की जीत में ब्रेसनेन की अहम भूमिका रही थी. वहीं घायल जॉनथन ट्रॉट की जगह रवि बोपारा को अंतिम 11 में जगह मिल सकती है.

चोट से परेशान

Image caption चोट के बाद वीरेंदर सहवाग की टीम में वापसी हो रही है

खिलाड़ियों की चोटों से परेशान भारतीय टीम के लिए एक अच्छी ख़बर ये है कि उसके स्थापित सलामी बल्लेबाज़ों की टीम में वापसी हुई है. कंधे की चोट के बाद वीरेंदर सहवाग गौतम गंभीर के साथ पारी की शुरुआत करेंगे.

इससे पहले गंभीर को भी चोट की वजह से ट्रेंट ब्रिज टेस्ट से अलग होना पड़ा था. अब राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण अपने नियमित स्थानों तीन और पाँच पर बल्लेबाज़ी कर सकेंगे.

युवराज सिंह के अलावा ज़हीर ख़ान और हरभजन सिंह चोट के चलते टीम से बाहर हो चुके हैं और इन हालात में प्रज्ञान ओझा या लेग स्पिनर अमित मिश्रा को जगह मिल सकती है.

ज़हीर के बाहर होने के बाद मुनाफ़ पटेल या आरपी सिंह में से किसी एक को अंतिम 11 में शामिल किया जा सकता है. आरपी सिंह ने अंतिम टेस्ट 2008 में खेला था.

इंग्लैंड फ़िलहाल टेस्ट शृंखला में 2-0 से आगे है और अगर वह एजबेस्टन का ये टेस्ट भी जीत लेता है तो वह टेस्ट में नंबर एक रैंकिंग वाली टीम हो जाएगी.

संबंधित समाचार