फ़ॉलोऑन के बाद भारत संकट में

इमेज कॉपीरइट Getty

इंग्लैंड के ख़िलाफ़ फ़ॉलोऑन के बाद ओवल टेस्ट मैच में चौथे दिन की समाप्ति के बाद भारतीय टीम संकट में है.

चौथे दिन का खेल ख़त्म होने के समय भारत ने तीन विकेट खोकर 129 रन बना लिए हैं. भारत अभी भी 162 रन पीछे हैं और पांचवा और अंतिम दिन का खेल बाक़ी है.

सचिन तेंडुलकर 35 रन बनाकर क्रिज़ पर जमे हुए हैं और उनके साथ अमित मिश्रा हैं जो आठ रन बनाकर खेल रहें हैं.

पहली पारी की तरह भारत के दूसरी पारी की शूरूआत भी ख़राब रही.

सहवाग और द्रविड़ ने पारी की शूरुआत की लेकिन पहली पारी में शतक बनाने वाले द्रविड़ इस बार कुछ ख़ास नहीं कर सके और वो सिर्फ़ 13 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए. जबकि लगातार ख़राब फ़ॉर्म में चल रहे सहवाग इस बार 33 रन बनाकर आउट हुए.

लक्ष्मण भी सिर्फ़ 24 रन पर एंडरसन की एक गेंद पर बोल्ड हो गए.

इससे पहले अपनी पहली पारी में भारत की पूरी टीम 300 रन बनाकर आउट हो गई. भारत की ओर से केवल राहुल द्रविड़ अपना दम दिखा पाए. उन्होंने नाबाद 146 रन बनाए.

द्रविड़ ने लगाया 35वां शतक

इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी छह विकेट पर 591 रनों पर घोषित की थी. चौथे दिन का खेल जब शुरु हुआ था तो भारत ने पाँच विकेट के नुकसान पर 103 के स्कोर से आगे खेलना शुरु किया.

यानी फ़ॉलोऑन का ख़तरा पहले से ही मंडरा रहा था. ऐसे में राहुल द्रविड़ ने कमान संभाली और डूबती नैया को पार लगाने की कोशिश में जी-जान लगा दिया.

द्रविड़ तो क्रीज़ पर टिके रहे लेकिन दूसरे छोर पर भारतीय खिलाड़ी आते रहे और जाते रहे. कप्तान धोनी ने 17 रन बनाए. इस बीच द्रविड़ ने टेस्ट जीवन का 35वां शतक पूरा किया.

अमित मिश्रा ने कुछ देर द्रविड़ का साथ दिया लेकिन 43 के स्कोर पर वे ब्रेसनन की गेंद का शिकार हो गए.

इसके बाद गंभीर, आरपी सिंह के विकेट गिरने में ज़्यादा वक़्त नहीं लगा. द्रविड़ अपने 150 रनों से केवल चार रन दूर थे लेकिन तभी 94वें ओवर में श्रीसंत के रूप में भारत का आख़िरी विकेट भी गिर गया. भारत की पूरी टीम केवल 300 रन ही बना पाई.

ब्रेसनन और स्वान ने तीन-तीन विकेट लिए जबकि एंडरसन और ब्रॉड को दो-दो विकेट मिले. भारत इस टेस्टस सिरीज़ में 3-0 से पीछे है.

संबंधित समाचार