संदीप और सरदारा पर से प्रतिबंध हटा

संदीप सिंह
Image caption संदीप सिंह पर दो साल की पाबंदी लगाई गई थी

हॉकी इंडिया ने दो हॉकी खिलाड़ियों संदीप सिंह और सरदारा सिंह पर लगाई गई दो साल की पाबंदी हटा ली है. हॉकी इंडिया का कहना है कि इन खिलाड़ियों को अपनी ग़लती सुधारने का आख़िरी मौक़ा दिया जा रहा है.

हॉकी इंडिया के कार्यकारी निदेशक अनुपम गुलाटी ने बताया कि पाबंदी हटाने का फ़ैसला दोनों खिलाड़ियों के बिना शर्त माफ़ी मांगने के बाद किया गया है.

संदीप सिंह और सरदारा सिंह ने अपीलीय समिति के सामने अपनी अनुशासनहीनता के लिए खेद व्यक्त किया और बिना शर्त माफ़ी मांगी.

अनुपम गुलाटी ने बताया कि इन दोनों खिलाड़ियों की उम्र, उनके प्रदर्शन और भविष्य में अच्छे प्रदर्शन की संभावना को देखते हुए पाबंदी हटाई गई है.

राहत

उन्होंने बताया, "संदीप सिंह और सरदारा सिंह ने ये लिखित में दिया है कि अगर वे भविष्य में दुर्व्यवहार के लिए दोषी पाए जाते हैं, तो उनके ख़िलाफ़ दो साल की पाबंदी फिर से लगा दी जाए."

ये दोनों खिलाड़ी एशियन चैम्पियंस ट्रॉफ़ी से पहले नेशनल कैंप से हट गए थे और व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया था. इसके बाद ही हॉकी इंडिया ने उन पर पाबंदी लगा दी थी.

संदीप सिंह और सरदारा सिंह ने इस फ़ैसले को चुनौती दी थी. हॉकी इंडिया ने उन्हें 30 दिनों के अंदर चुनौती देने को कहा था.

अब पाबंदी हटने के बाद संदीप सिंह और सरदारा सिंह को बंगलौर में चल रहे नेशनल कैंप में तुरंत शामिल होने को कहा गया है.

संदीप सिंह ने हॉकी इंडिया के फ़ैसले पर राहत की साँस ली है. उन्होंने बताया कि ये उनके करियर के सबसे बुरे दौर में से एक था और अब उनका ध्यान सिर्फ़ हॉकी पर है.

संबंधित समाचार