वेटेल बने सबसे युवा डबल चैंपियन

इमेज कॉपीरइट Getty

फ़ॉर्मूला वन रेसिंग में वर्ष 2011 का विश्व ख़िताब जीतकर सबेस्टियन वेटेल खेल के इतिहास में दो बार विश्व चैंपियन बनने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं. इससे पहले ये ख़िताब फ़रारी के फ़र्नान्डो एलोंसो के नाम था. वेटेल ने 364 दिनों से उन्हें पछाड़ा.

24 साल और 98 दिन के वेटेल पिछले साल भी ये वर्ल्ड चैंपियन थे. दो बार वर्ल्ड चैंपियन बनने वाले वे फ़ॉर्मूला वन में नौवें खिलाड़ी हैं.

जापान ग्रां प्री प्रतियोगिता हालांकि मैक्लेरन के जेन्सन बटन के नाम रही लेकिन 2011 का विश्व चैंपियन का ख़िताब वेटेल को मिला.

सबसे ज़्यादा बार वर्ल्ड चैंपियन बनने का रिकॉर्ड माइकल शूमाकर के नाम है. वे सात बार के चैंपियन हैं.

फ़ॉर्मूला वन में वेटेल के नाम कई रिकॉर्ड हैं:

23 साल 135 दिन की उम्र में वे सबसे युवा विश्व चैंपियन बने

21 साल 73 दिन की उम्र में कोई ग्रां प्री जीतने वाले पहले खिलाड़ी