बट ने नो बॉल को ‘इत्तेफ़ाक’ बताया

सलमान बट इमेज कॉपीरइट PA
Image caption सलमान बट और मोहम्मद आसिफ़ दोनों ने मैच फ़िक्सिंग का षड़यंत्र रचने और अवैध तरीके से पैसे लेने की बात से इन्कार किया है.

इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट मैच में पाकिस्तानी गेंदबाज़ों की ओर से फेंके गए नो बॉलों के सटीक अनुमान को 'महज़ इत्तेफाक' बताया गया है.

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहम्मद आसिफ़ और सलमान बट से जुड़े मैच में फिक्सिंग के मामले की सदर्क क्राउन कोर्ट में चल रही सुनवाई में ये बात कही गई.

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट ने यह दावा पुलिसिया पूछताछ के दौरान किया था और इसी पूछताछ का ट्रांसक्रिप्ट कोर्ट में दिखाया गया.

बट से पूछा गया था कि ख़ुफ़िया तरीके से रिकॉर्ड किए गए वीडियो के अनुसार उनका एजेंट हर नो बॉल फेंके जाने का सटीक पूर्वानुमान कैसे लगा लेता था.

सलमान बट ने मैच फ़िक्स होने की बात से इनकार किया है.

सरकारी पक्ष का कहना है कि मज़हर मजीद ने सलमान बट और गेंदबाज़ मोहम्मद आसिफ़ से साथ मिलकर लॉर्ड्स में हुए मैच के कई हिस्सों को फ़िक्स किया था.

सलमान बट और मोहम्मद आसिफ़ दोनों ने मैच में फ़िक्सिंग का षड्यंत्र रचने और अवैध तरीके से पैसे लेने की बात से इनकार किया है.

हाल ही मे बंद हुए अख़बार न्यूज़ ऑफ़ द वर्ल्ड की तरफ़ से करवाए गए एक स्टिंग ऑपरेशन से यह मामला प्रकाश में आया था, जिसमें दावा किया गया था कि ख़िलाड़ियों ने मैच के कुछ हिस्सों की फ़िक्सिंग की है.

मामले के सामने आने के बाद पुलिस की ओर से सलमान बट से की गई पूछलाछ से जुड़े दस्तावेज़ों को कोर्ट में पेश किया गया.

‘खेल से प्यार’

बट ने पुलिस से कहा कि नो बॉल का सटीक अनुमान लगाना एक एक अजीब बात थी.

यह पूछे जाने पर की क्या उन्होने फ़िक्सिंग करने के लिए रिश्वत ली थी, उन्होंने जवाब दिया कि कोई भी उनसे मैच फ़िक्स करने के लिए नहीं कह सकता.

बट ने कहा कि वह क्रिकेट खेलते हैं क्योंकि उन्हें इस खेल से और अपने देश से प्यार है.

मंगलवार को अदालत से कहा गया था कि पाकिस्तान के टेस्ट मैच हार जाने के लिए मजीद ने 12 लाख डॉलर की मांग की थी.

इस मामले की सुनवाई जारी है.

संबंधित समाचार