भारत में लगा फ़ॉर्मूला वन का जमावड़ा

इमेज कॉपीरइट Reuters

भारत की पहली फ़ॉर्मूला रेस का मुख्य दौर रविवार को आयोजित हो रहा है. दिल्ली के पास नोएडा में बने बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में दुनिया भर के टॉप खिलाड़ियों, बॉलीवुड और अंतरराष्ट्रीय हस्तियों का जमावड़ा लगा हुआ है.

तीन बजे से होने वाली इस रेस में पोल पोज़ीशन विश्व चैंपियन वेटल को मिली है यानी वे रेस में सबसे आगे खड़े होंगे.

इसके लिए शनिवार को क्वालिफ़ाईंग रेस हुई थी जिसमें वेटेल ने अपना तेरहवां पोल पोज़ीशन हासिल किया.मैक्लैरेन के लुई हैमिल्टन को दूसरा स्थान मिला लेकिन उनपर तीन अंकों का दंड लगा है.

भारतीय रेसर नारायण कार्तिकेन को आख़िरी स्थान मिला है. भारत में पहली बार फ़ॉर्मूला वन रेस आयोजित की गई है.

इस रेस को देखने और बाद में होने वाली पार्टी के लिए कई बड़ी हस्तियाँ आई हैं. विदेश से गायिका लेडी गागा आई हुई हैं तो भारत से सचिन तेंदुलकर, शाहरुख़ खान और सानिया मिर्ज़ा जैसी हस्तियाँ पहुँची हैं.

बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट को निजी कंपनी जेपी स्पोर्ट्स इंटरनेशनल ने बनवाया है. ट्रैक का डिज़ाइन तैयार किया है मशहूर जर्मन आर्किटेक्ट हरमैन ने. यहाँ करीब डेढ़ लाख दर्शकों के बैठने की जगह है. इसकी गिनती दुनिया के सबसे बढ़िया ट्रेक में की जा रही है.

कुल 12 टीमें फ़ॉर्मूला वन में हिस्सा ले रही हैं जिसमें रेड बुल, मक्लेरन, फ़रारी, मर्सिडीज़, टीम लोटस, रेनॉ, जैसी टीमें हैं. फ़ॉर्मूला वन में एक भारतीय टीम भी है- सहारा फ़ोर्स इंडिया.

हालांकि फ़ॉर्मूला वन की मंहगी टिकटों को लेकर थोड़ी आलोचना भी हो रही है कि ये आम लोगों की पहुँच से बाहर है.

पिछले साल हुए राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारियों को लेकर भारत की काफ़ी किरकिरी हुई थी. अब उम्मीद की जा रही है कि भारतीय ग्रां प्री के सफल आयोजन से भारत ख़ुद को खेल की दुनिया और आर्थिक जगत में बड़े नाम के तौर पर स्थापित कर पाएगा.

संबंधित समाचार