सचिन के शतकों के शतक का इंतज़ार

सचिन तेंदुलकर इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption निगाहें सचिन तेंदुलकर पर होंगीं जो शतकों का शतक पूरा करने से सिर्फ एक शतक दूर हैं.

भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन टेस्ट मैंचों की श्रृंखला का पहला मैंच रविवार को दिल्ली के फिरोज़ शाह कोटला मैंदान में खेला जाएगा.

पर इस मैंच में सबकी निगाहें सचिन तेंदुलकर पर होंगीं जो शतकों का शतक पूरा करने से सिर्फ एक शतक दूर हैं.

इंग्लैंड दौरे पर सैकड़े से चूके सचिन से क्रिकेट प्रेमियों को उम्मीद है कि वह ये कमाल फिरोजशाह कोटला के मैंदान में करेंगे.

वेस्टइंडीज के कप्तान डेरेन सैमी ने कहा है कि वो सचिन तेंदुलकर को 100वां अंतरराष्ट्रीय शतक नहीं बनाने देंगे.

ठीक उसी तरह जैसे इंग्लैंड के गेंदबाज़ों ने कहा था कि वो सचिन को सौवां सैकड़ा नही बनाने देंगे.

वेस्टइंडीज के कप्तान डेरेन सैमी ने पहले टेस्ट क्रिकेट मैच की पूर्व संध्या पर कहा कि सचिन महान खिलाड़ी हैं और वो उनके लिए अपनी रणनीति को अमली जामा पहनाना चाहेंगे और जितना संभव हो सकेगा हालात मुश्किल बनाने की कोशिश करेंगे.

भारत सलामी बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर के फिट होने तथा सचिन तेंदुलकर और युवराज सिंह के भी चोटों से उबरने के बाद पिछले दस महीने में पहली बार अपनी मज़बूत बल्लेबाज़ी क्रम के साथ उतरेगा.

वेस्टइंडीज के कप्तान ने कहा कि यह बहुत बड़ी श्रृंखला है. भारतीय टीम बहुत मज़बूत है और उसकी दमदार बल्लेबाज़ी के सामने यह उनके गेंदबाज़ों और कप्तान के तौर पर बड़ी परीक्षा होगी.

भारतीय खिलाड़ी फिट

उधर भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का कहना है कि उनके गेंदबाज़ 20 विकेट लेने में सफल रहेंगे.

हालांकि भारत वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में केवल दो अनुभवी गेंदबाजों के साथ उतर रहा है.

भारतीय कप्तान ने साथ ही कहा कि टीम वेस्टइंडीज को कम करके आंकने की गलती नहीं करेगी.

धोनी ने कहा कि सभी खिलाड़ी फिट हैं और पिछले दो दिन के अभ्यास में किसी खिलाड़ी को चोट नहीं लगी. प्रत्येक खिलाड़ी चयन के लिये उपलब्ध है.

भारत ने इंग्लैंड दौर में 0-4 से हारने के बाद नंबर एक की रैंकिंग गंवा दी थी लेकिन धोनी ने कहा कि वह उस दौरे को भूल चुके हैं और रैंकिंग के बारे में भी नहीं सोच रहे हैं.

संबंधित समाचार