भारत वेस्ट इंडीज के बीच रोमांचक टेस्ट मैच ड्रॉ

वीरेंदर सहवाग इमेज कॉपीरइट AFP Getty
Image caption सहवाग ने दूसरी पारी में 65 गेंदों पर 60 रन जड़ भारत को मज़बूत शुरूआत दी.

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में हुआ भारत और वेस्ट इंडीज़ के बीच टेस्ट मैच ड्रॉ हो गया है.

दूसरी पारी में लक्ष्य का पीछा करते समय भारतीय टीम एक समय लड़खड़ा सी गई थी लेकिन अंत में विराट कोहली ने 63 रनों की सधी हुई पारी खेली.

टी20 की बढ़ती लोकप्रियता के इस दौर में किसी टेस्ट मैच का इतना रोमांचक होना, टेस्ट क्रिकेट के लिए ज़बर्दस्त विज्ञापन है.

तस्वीरों में देखिए तीसरे टेस्ट मैच का रोमांच

शनिवार को वेस्ट इंडीज़ की सारी टीम मैच की दूसरी पारी में 134 रनों पर आउट हो गई थी. इसके बाद पहली पारी की बढ़त के सहारे भारत के सामने जीत के लिए 243 रनों का लक्ष्य रखा गया था. लेकिन भारतीय टीम नौ विकेट खोकर 242 रन ही बना पाई. आखिरी गेंद पर भारत को जीत के लिए 2 रनों की ज़रूरत थी लेकिन अश्विन और ऐरौन की जोड़ी सिर्फ़ एक रन पूरा कर पाई.

मज़बूत भारतीय बैटिंग ऑर्डर के लिए 243 का स्कोर मुश्किल नहीं लग रहा था और शुरूआत में लगा भी कुछ ऐसा ही.

हांलाकि गौतम गंभीर 12 रन बनाकर आउट हो गए लेकिन दूसरे छोर पर वीरेंदर सहवाग ने अपने आतिशी अंदाज़ बरक़रार रखते हुए ताबड़तोड़ रन बनाना जारी रखा.

लेकिन जब सहवाग 60 के स्कोर पर थे तब सैमुएल्स की गेंद पर डैरन सैमी को कैच दे बैठे.

इसके बाद सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ भी जल्दी-जल्दी पैवेलियन लौट गए.

113 रनों पर चार विकेट खोने के बाद भारत की पारी को वीवीएस लक्ष्मण ने संभाला और 31 रनों पर आउट होने से पहले टीम को लक्ष्य के क़रीब ले गए.

चमकी अश्विन-ओझा की फिरकी

इमेज कॉपीरइट AFP Getty
Image caption अश्विन ने इस मैच में नौ विकेट झटके और पहली पारी में एक सेंचुरी भी लगाई.

मैच के पांचवे दिन सुबह वेस्ट इंडीज़ ने जब खेलना शुरू किया तो स्कोर था 81 रन पर दो विकेट.

चौथे दिन का खेल ख़त्म होने पर 31 रनों पर खेल रहे ब्रेथवेट अपने स्कोर में चार ही रन जोड़ पाए थे कि प्रज्ञान ओझा ने उन्हें सचिन तेंदुलकर के हाथों कैच आउट करवा दिया.

उसके बाद वेस्ट इंडीज़ की पारी संभल ही नहीं पाई. बाक़ी बचे सात बल्लेबाज़ महज़ 42 रन रन ही जोड़ पाए.

प्रज्ञान ओझा और रविचंद्रन अश्विन की घूमती गेंदों के सामने वेस्ट इंडीज़ के बल्लेबाज़ असहाय दिखे.

ओझा ने 47 रन देकर छह विकेट झटके और अश्विन ने 34 रन देकर चार विकेट लिए.

ये मैच अश्विन के लिए ख़ास रहेगा क्योंकि उन्होंने दोनों पारियों में मिलाकर नौ विकेट ही नहीं लिए बल्कि भारत की पहली पारी में सेंचुरी जड़कर टीम को अच्छे मुकाम पर पंहुचाया.

इस तरह पहली पारी में 108 रनों की बढ़त के सहारे वेस्ट इंडीज़ ने भारत के सामने जीत के लिए 243 रनों का लक्ष्य रखा. लेकिन भारतीय टीम एक रन से जीत से चूक गई.

आर अश्विन को 'मैन ऑफ़ द मैच' और 'मैन ऑफ़ द सिरीज़' चुना गया.

भारत - वेस्ट इंडीज़ : तीसरा टेस्ट मैच
भारत वेस्ट इंडीज़
पहली पारी - 482 पहली पारी - 590
आर. अश्विन 103, तेंदुलकर 94, द्रविड़ 82 डैरन ब्रावो 166, कर्क एडवर्ड्स 86, पॉवेल 81,
रामपाल - 3 विकेट, सैमुएल्स -3 विकेट आर. अश्विन - 5 विकेट, वरुण ऐरन -3 विकेट
दूसरी पारी - 242/9 दूसरी पारी - 134
कोहली 63, सहवाग 60 डैरन ब्रावो 48, ब्रैथवेट 35
रामपाल - 3 विकेट, सैमुएल्स - 2 विकेट प्रज्ञान ओझा - 6 विकेट, अश्विन - 4 विकेट

संबंधित समाचार