रोमांचक मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराया

gambhir इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption गौतम गंभीर ने सबसे ज़्यादा 92 रन बनाए

ऐडिलेड में खेले गए वनडे मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को चार विकेट से हरा दिया है. ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए आठ विकेट पर 269 रन बनाए.

गौतम गंभीर के 92 रन और महेंद्र सिंह धोनी के नाबाद 44 रनों की मदद से भारत ने ये लक्ष्य आखिरी ओवर में पूरा किया.

माइकल कलार्क की कप्तानी में खेल रही ऑस्ट्रेलिया को पहली बार भारत ने इस सिरीज़ में हराया है.

ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी की लेकिन पारी की शुरुआत करने वाले रिकी पोंटिंग का विकेट जल्दी खो दिया. डेविड वार्नर भी कुछ खास नहीं कर सके और 18 रनों पर रन आउट हो गए.

कप्तान माइकल कलार्क ने एक बार फिर पारी को संभाला और 38 रनों को योगदान दिया. ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसी अच्छी साझेदारी डेविड हसी और पहला मैच खेल रहे फॉरेस्ट के बीच हुई. दोनों ने चौथे विकेट के लिए 98 रन जोड़े. फॉरेस्ट ने 66 रन बनाए जबकि हसी 72 रन बनाकर आउट हुए.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption ऑस्ट्रेलिया के लिए डेविड हसी ने सबसे ज़्यादा रन बनाए

ऑस्ट्रेलिया ने 50 ओवरों में आठ विकेट पर 269 रन बनाए. भारत की तरफ़ से उमेश यादव और विनय कुमार ने दो-दो विकेट लिए.

भारतीय पारी

जवाब में सहवाग और गंभीर ने भारत को अच्छी शुरुआत दिलवाई और पचास रनों की साझेदारी की. लेकिन सहवाग 20 रन बनाकर और कोहली 18 रन बनाकर आउट हो गए.

रोहित शर्मा और गौतम गंभीर ने बढ़िय़ा साझेदारी निभाई और 32वें ओवर में भारत का स्कोर था दो विकेट पर 166 रन.भारतीय टीम जीत की तरफ़ बढ़ती दिख रही थी कि रोहित शर्मा अपना विकेट गंवा बैठे. हैरिस को लॉन्ग ऑफ़ के उपर से खेलने की कोशिश में उन्होंने कैच थमा दिया.

गौतम गंभीर भारती पारी को संभाले हुए थे, लेकिन जल्दी ही वो भी मैके की गेंद पर पगबाधा आउट हो गए. गंभीर ने 92 रन बनाए.

इन दोनों जमे हुए बल्लेबाज़ों के लगातार आउट होने के बाद मैच में एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया की पकड़ मज़बूत हो गई. वेकिन कप्तान धोनी ने रैना के साथ मिलकर तेज़ी से रन जोड़े. फिर भी एक छोर से विकेट गिरते रहे और रैना और जडेजा भी आउट हो गए.

आखिरी ओवर में भारत को जीत के लिए 13 रनों की ज़रूरत थी, और धोनी के रहते टीम को उम्मीद भी थी. अश्विन को पहले गेंद पर रन नहीं मिला, लेकिन दूसरे गेंद पर एक रन लेकर उन्होंने धोनी को स्ट्राइक दी. धोनी ने अगले ही गेंद पर बहुत बड़ छक्का लगाकर टीम की उम्मीद बढ़ाई. अगले दो गेंदों पर पांच रन लेकर धोनी ने भारत को जीत दिलाई. धोनी 44 रन बनाकर नाबाद रहे.

इस त्रिकोणीय सिरीज़ के पहले वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को मात दी थी. जबकि एक अन्य मैच में भारत ने श्रीलंका को हराया था.

संबंधित समाचार