भारतीय क्रिकेट के लिए सचिन-द्रविड़ का साथ अद्भुत

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption राहुल द्रविड़ जैसे खिलाड़ी का विकल्प तलाशना भारतीय क्रिकेट जगत की एक बड़ी चुनौती है

अपने हुनर के माहिर दो दिग्गजों का एक दूसरे के ख़िलाफ़ मुकाबला देखना दिलचस्प होता है लेकिन दो कद्दावर खिलाड़ियों की जुगलबंदी अपने आप में ख़ास है.

भले ही सचिन तेंदुलकर औऱ राहुल द्रविड़ के बीच तुलना होती रहे लेकिन खेल पत्रकार औऱ विश्लेषक प्रदीप मैगज़ीन का मानना है कि यह एक वरदान जैसा रहा है.

उनका कहना है, "राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर का एक साथ टीम में खेलना भारतीय क्रिकेट इतिहास का सबसे अद्भुत हिस्सा है. इस जोड़ी ने भारतीय क्रिकेट के लिए जो किया है उसे आगे दोहरा पाना इतना आसान नहीं होगा."

क्रिकेट में अतुलनीय योगदान के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई मंगलवार को राहुल द्रविड़ को सम्मानित करने जा रहा है.

प्रदीप कहते हैं, "द्रविड़ जिस शालीनता और तकनीक के साथ क्रिकेट खेले उससे ये तो साफ़ था कि उनकी लोकप्रियता शायद सचिन या लक्ष्मण जैसी तो नहीं होगी लेकिन वही द्रविड़ की ताक़त थी. उन्होने वहां जमकर रन बनाए जहां बड़े बड़े नाम असफल रहे."

द्रविड़ की बात जुदा

पढ़ा और सुना तो आपने भी होगा कि ज़िंदगी में अपनी ख़ास पहचान कायम करने वाले लोग कुछ अलग नहीं करते बल्कि अलग तरीक़े से करते हैं.

शायद यही वजह है कि भारतीय क्रिकेटर तो बहुत हैं लेकिन राहुल द्रविड़ की बात जुदा है.

हाल ही में टेस्ट क्रिकेट से विदा लेने वाले राहुल द्रविड़ के समूचे करियर को बहुत क़रीब से देखने वाले खेल पत्रकार और विश्लेषक प्रदीप मैगज़ीन कहते हैं कि "भारतीय टीम ने आज जिस ऊंचाई को छुआ है उसमें मिस्टर भरोसेमंद द्रविड़ का अहम योगदान है अगर वो टीम का हिस्सा नहीं होते तो इस मुकाम के बारे में सोचना भी मुश्किल है."

नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी कर अपनी पारियों से टीम को अक्सर उबारने वाले द्रविड़ की जगह लेने का दम किस खिलाड़ी में है ये कहना मुश्किल है.

ख़ासकर साल 2002 में हेडिंग्ले में खेली उनकी पारी को याद करते हुए प्रदीप कहते हैं, "उस दिन मौसम ख़राब था.बॉल स्विंग कर रही थी द्रविड़ मैदान पर उतरे और उन्होने जो पारी खेली वो ना सिर्फ़ उनके करियर की बल्कि मैं कहूंगा भारतीय क्रिकेट की एक निर्णायक पारी थी. विराट कोहली जैसे नए खिलाड़ियों में संभावनाएं हैं लेकिन राहुल द्रविड़ जैसा बनने में वक्त लगता है."

संबंधित समाचार