बेमिसाल पेस के 50 खिताब

इमेज कॉपीरइट Getty

भारत के टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस विश्व के 24वें ऐसे खिलाड़ी बन गए हैं जिन्होंने एटीपी वर्ल्ड टूयर में 50 डबल्स खिताब जीते हैं.

पेस और उनके जोड़ीदार राडेक स्टेपनेक ने मियामी में सोनी एरिक्सन ओपन का डबल्स खिताब जीता जो उनका 50वां डबल्स टाइटल बना.

पेस की गिनती भारत के नहीं बल्कि विश्व के दिग्गज डबल्स खिलाड़ियों में होती है.

पेस सबसे पहले तब सुर्खियों में आए थे जब 1990 में उन्होंने जूनियर विंबल्डन टाइटल अपने नाम किया और एक समय जूनियर रैंकिंग में नंबर एक खिलाड़ी थे.

1996 में उन्होंने भारत को अटलांटा ओलंपिक में एकल मुकाबले में कांस्य पदक दिलाया. 90 के दशक में उन्होंने महेश भूपति के साथ मिलकर कई ग्रैंड स्लैम प्रतियोगिताएँ और खिताब जीते.

उन्होंने पहला एटीपी खिताब 1997 में चेन्नई में महेश भूपति के साथ जीता था.

एक समय एकल रैंकिंग में वे टॉप 100 में शामिल थे लेकिन बाद में उन्होंने डबल्स को ज्यादा तरजीह देनी शुरु कर दी.

1999 में पेस और भूपति की जोड़ी चारों ग्रैंड स्लैम प्रतियोगिताओं के फाइनल में पहुँची थी. विंबल्डन और फ्रेंच ओपन जीतकर पेस और भूपति ग्रैंड स्लैम प्रतियोगिता जीतने वाली पहली जोड़ी बनी थी. उस साल उन्होंने विंबल्डन में मिक्स डबल्स भी जीता था.

उसके बाद से पेस की जीत का अभियान लगातार जारी है. डेविस कप में तो पेस का प्रदर्शन लाजवाब रहा है.

वर्ष 2002 और 2006 में उन्होंने एशियाई खेलों में डबल्स में भारत को स्वर्ण पदक दिलाया. 2001 में पेस को पदम श्री से सम्मानित किया गया था.

वे पुरुष डबल्स में सात ग्रैंड स्लैम प्रतियोगिता जीत चुके हैं और मिक्सड डबल्स में छह ग्रैंड स्लैम.

संबंधित समाचार