कार पर हमले में बचे फ़ोर्स इंडिया के मैकेनिक

इमेज कॉपीरइट All Sports
Image caption बहरीन में इस शनिवार और रविवार को ग्रां प्री की रेस होने वाली है.

बहरीन ग्रां प्री में हिस्सा लेने पहुंची फॉर्मुला वन की टीम फ़ोर्स इंडिया पर बुधवार को अभ्यास से लौटते वक्त बम से हमला हुआ है.

ये हमला उस समय हुआ जब टीम के चार मकैनिकों को ले जा रही कार एक ट्रैफ़िक जाम में फंसी हुई थी.

फ़ोर्स इंडिया के किसी भी कर्मचारी को चोट नहीं आई है लेकिन टीम के एक सदस्य को ब्रिटेन लौटने दिया जा रहा है. ये सदस्य हमले के समय कार में सवार नहीं था.

पिछले वर्ष सरकार विरोधी प्रदर्शनों की वजह से बहरीन ग्रां प्री को रद्द करना पड़ा था और ताज़ा घटना के बाद इस वर्ष की रेस पर भी सवाल खड़े हो गए हैं.

बहरीन में राजघराने पर मानवाधिकारों का रिकॉर्ड सुधारने और लोकतंत्र को बढ़ावा देने के पक्ष में पिछले डेढ़ साल से प्रदर्शन चल रहे हैं.

बहरीन शिया बहुल देश है जहां एक सुन्नी राजघराना सत्तारूढ़ है.

रेस पर सवाल

बहरीन इंटरनेशनल सर्किट के चेयरमैन ज़ैद आर अलज़यानी ने कहा, “प्रदर्शनकारी इस कार को निशाना नहीं बना रहे थे. ये तो संयोग से हमले के वक्त वहां थी.”

उन्होंने कार रेसिंग की वेबसाइट आउटोस्पोर्ट को बताया, “इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ है. पुलिस मेरे नियंत्रण में नहीं है. पुलिस को मालूम है कि उसे क्या करना है. मेरा काम रेस करवाना है. ”

इस घटना में शामिल चार मैकेनिक इस शनिवार और रविवार को होने वाली फॉर्मुला वन रेस के लिए काम करते रहेंगे.

बहरीन में राजनीतिक अस्थिरता के बीच सरकार ने भरोसा दिलाया था कि इस हफ़्ते होने वाली फॉर्मुला वन रेस को पूरी सुरक्षा मिलेगी.

फॉर्मुला वन की टीमों और ड्राइवरों के बीच बहरीन में इस वर्ष रेस किए जाने पर संदेह हैं लेकिन ये चिंताएं फिलहाल सार्वजनिक रूप से जाहिर नहीं की गई हैं.