आईपीएल में रोमांच का रिकॉर्ड टूटा

 शनिवार, 5 मई, 2012 को 16:58 IST तक के समाचार
किंग्स इलेवन पंजाब

आईपीएल का पाँचवाँ संस्करण कितना सफल रहा, ये तो प्रतियोगिता की समाप्ति और फिर हिसाब-किताब के बाद तय हो पाएगा. लेकिन एक चीज, जो साफ-साफ दिख रही है, वो है आईपीएल-5 मैचों के अति रोमांचक होने की.

आईपीएल-5 की टीवी रेटिंग कितनी रही, कितने पैसे विज्ञापन से मिले, प्रसारकों को कितना नफा-नुकसान हुआ- इन सबसे अलग दर्शकों को मैच खूब आनंद दे रहे हैं.

आईपीएल के इतिहास में इतने रोमांचक मैच पहले कभी नहीं हुए. जबकि अभी 30 मैच खेले जाने बाकी हैं.

हाल ही में पुणे वॉरियर्स इंडिया के खिलाफ मुंबई इंडियंस की एक रन से जीत, तो अजिंक्य रहाणे की बेहतरीन पारी के बावजूद राजस्थान रॉयल्स का डेल्ही डेयरडेविल्स से एक रन से हार जाना.

इन मैचों ने दर्शकों को स्टेडियम की ओर तो खींचा ही है, टीवी पर भी लोग आखिरी पाँच ओवर का रोमांच छोड़ना नहीं चाह रहे.

वैसे इस बार आईपीएल की शुरुआत भी कई एकतरफा मैचों से हुई. कुछ मैच तो इतने अंतर से जीते गए कि लगा आईपीएल-5 में जल्द ही शीर्ष टीमों का फैसला हो जाएगा.

लेकिन प्रतियोगिता जैसे-जैसे आगे बढ़ी, रोमांच बढ़ा और अब आलम ये है कि करीब-करीब हर दूसरा-तीसरा मैच आखिरी ओवर तक खिंच रहा है.

जीत-हार

कुछ अति रोमांचक मैच

टीम-1 टीम-2 नतीजा
मुंबई इंडियंस डेक्कन चार्जर्स मुंबई पाँच विकेट से जीता फैसला आखिरी गेंद पर
चेन्नई सुपर किंग्स रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर चेन्नई पाँच विकेट से जीता फैसला आखिरी गेंद पर
कोलकाता नाइट राइडर्स किंग्स इलेवन पंजाब पंजाब दो रनों से जीता फैसला आखिरी गेंद पर
रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर पुणे वॉरियर्स इंडिया बंगलौर छह विकेट से जीता फैसला आखिरी गेंद पर
चेन्नई सुपर किंग्स राजस्थान रॉयल्स चेन्नई सात विकेट से जीता फैसला आखिरी गेंद पर
डेल्ही डेयरडेविल्स राजस्थान रॉयल्स दिल्ली एक रन से जीता फैसला आखिरी गेंद पर
मुंबई इंडियंस पुणे वॉरियर्स इंडिया मुंबई एक रन से जीता फैसला आखिरी गेंद पर

नौ अप्रैल को मुंबई इंडियंस और डेक्कन चार्जर्स के बीच विशाखापट्टनम में मैच हुआ. डेक्कन चार्जर्स ने पहले खेलते हुए 138 रनों का स्कोर खड़ा किया. लगा मुंबई इंडियंस की टीम आसानी से जीत जाएगी.

लेकिन आखिरी ओवर तक मैच गया और मुंबई इंडियंस को आखिरी ओवर में 18 रन बनाने थे. लेकिन रोहित शर्मा ने आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर अपनी टीम को मैच जिता दिया.

इसी तरह 12 अप्रैल को चेन्नई में चेन्नई सुपर किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर के बीच मैच का फैसला भी आखिरी ओवर में हुआ. बंगलौर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 205 रन बनाए. उन्होंने सोचा भी नहीं होगा कि इतने बड़े स्कोर के बावजूद उनकी टीम हार जाएगी.

चेन्नई को 15 रनों की आवश्यकता थी. आखिरी ओवर में विकेट भी गिरे. लेकिन इस मैच की आखिरी गेंद पर चौका लगाकर रवींद्र जडेजा ने अपनी टीम को जीत दिला दी.

इसी तरह कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच 13 अप्रैल को हुए मैच में कोलकाता ने आखिरी ओवर में पाँच विकेट से जीत हासिल की. तो पुणे वॉरियर्स इंडिया ने चेन्नई को चार गेंद रहते सात विकेट से हराया.

एक और रोमांचक मैच कोलकाता में 15 अप्रैल को हुआ, जब किंग्स इलेवन पंजाब ने मेजबान टीम को दो रनों से हरा दिया. किंग्स इलेवन पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 134 रनों का स्कोर ही खड़ा किया था.

कोलकाता नाइट राइडर्स को आखिरी ओवर में नौ रनों की आवश्यकता थी. लेकिन आखिरी ओवर में सिर्फ छह रन ही बन पाए और कोलकाता के दर्शक सन्न रह गए.

जयपुर में राजस्थान रॉयल्स और डेक्कन चार्जर्स के बीच हुए मैच का फैसला भी आखिरी ओवर में हुआ और राजस्थान ने दो गेंद रहते पाँच विकेट से जीत हासिल की.

पुणे का दुर्भाग्य

आशीष नेहरा

आशीष नेहरा ने बंगलौर के खिलाफ अपना आखिरी ओवर शायद ही भूल पाए

एक और हाई स्कोरिंग मैच का अंत रोमांच से हुआ, जब रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर और पुणे वॉरियर्स इंडिया के बीच मुकाबला हुआ. पुणे ने पहले बल्लेबाजी की और 182 रन बनाए.

पुणे की टीम का पलड़ा भारी रहा. लेकिन मैच के आखिरी ओवर में सब गुड़ गोबर हो गया. आखिरी ओवर में बंगलौर को 21 रन बनाने थे. सौरभ गांगुली ने आशीष नेहरा को गेंद थमाई, जो काफी अनुभवी गेंदबाज हैं.

लेकिन बंगलौर की ओर से सौरभ तिवारी और एबी डी वेलियर्स ने तीन छक्के और एक चौका लगाया और पुणे की टीम मैच जीतते-जीतते हार गई.

21 अप्रैल को चेन्नई में चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स का मुकाबला हुआ. चेन्नई को 147 रन का लक्ष्य मिला, लेकिन अच्छी स्थिति में होने के बावजूद मैच आखिरी गेंद तक खिंचा. चेन्नई को आखिरी गेंद पर दो रनों की आवश्यकता थी और टीम जीतने में सफल रही.

एक और मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने मुंबई इंडियंस को तीन गेंद रहते छह विकेट से हराया.

लेकिन अगली बार जब किंग्स इलेवन पंजाब और मुंबई इंडियंस का मुकाबला हुआ, तो रोमांच और ज्यादा था, लेकिन इस बार जीत मिली मुंबई इंडियंस को. मुंबई इंडियंस ने आखिरी ओवर की पाँचवीं गेंद पर चार विकेट से जीत गई.

एक बार फिर पंजाब की टीम का मैच रोमांचक हुआ, जब उसने चेन्नई को सिर्फ सात रन से मात दी.

राजस्थान को सदमा

रोहित शर्मा

रोहित शर्मा ने आखिरी गेंद पर छक्का लगाया था

डेल्ही डेयरडेविल्स और राजस्थान रॉयल्स के मैच ने तो रोमांच की सारी हदें पार कर दी. राजस्थान रॉयल्स ने अच्छी स्थिति में होने के बावजूद एक रन से मैच गँवा दिया.

राजस्थान रॉयल्स को आखिरी ओवर में 12 रनों की आवश्यकता थी और उसके सिर्फ दो विकेट गिरे थे. सबसे बड़ी बात ये थी कि रहाणे पिच पर थे. लेकिन एक छक्का लगाने के बावजूद उमेश यादव के ओवर में 10 ही रन बने.

आखिरी गेंद पर दो रनों की आवश्यकता थी. लेकिन एक भी रन नहीं बने और ओवैस शाह रन आउट हो गए.

एक बार फिर किंग्स इलेवन पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर को एक गेंद रहते चार विकेट से हराया.

एक और मैच का नतीजा आखिरी गेंद पर निकला और मुंबई इंडियंस ने जीत हासिल की. पुणे वॉरियर्स की टीम कम स्कोर वाला ये मैच हार गई. मुंबई ने पहले खेलते हुए सिर्फ 120 रन बनाए थे.

लेकिन पुणे की टीम 121 रनों का लक्ष्य पूरा नहीं कर पाई. आखिरी ओवर में पुणे को 12 रन बनाने थे. लेकिन मुनाफ पटेल ने संभल कर गेंदबाजी की. आखिरी गेंद पर पुणे को चार रन बनाने थे, लेकिन वो दो ही रन बना पाए.

तो आईपीएल-5 ने रोमांचक मैचों के मामले में पहले के आईपीएल संस्करणों को पीछे छोड़ दिया है जबकि अभी कई मैच और खेले जाने हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.