फिक्सिंग के आरोपों के बीच बीसीसीआई की बैठक

 मंगलवार, 15 मई, 2012 को 08:27 IST तक के समाचार
आईपीएल

बीसीसीआई ने कहा है कि वह जांच के बाद 'उचित कड़ी कार्रवाई' करेगा.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने इंडियन प्रीमियर लीग मैचों में कथित तौर पर जारी स्पॉट फिक्सिंग और काला धन के लेन-देन पर चर्चा और कार्यवाही के लिए संचालन समीति की एक बैठक बुलाई है.

बीसीसीआई ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि कुछ टेलीवीजन चैनल आईपीएल में शामिल खिलाड़ियों के कथित तौर पर अवांछनीय कामों में शामिल होने की खबरें दिखा रहे हैं.

प्रेस रिलीज में कहा गया है, "बीसीसीआई नियमों के उल्लंघन और भ्रष्टाचार के किसी भी तरह के मामले को बर्दाशत नहीं करेगा."

भारत में क्रिकेट के खेल से संबंधित मामलों की निगरानी करनेवाली संस्था का कहना है कि स्टिंग आपरेशन से जुड़े सभी फुटेज को टीवी चैनेल से मांगा जाएगा और उसकी गहन जांच की जाएगी.

बीसीसीआई के सचिव संजय जगदले की और से भेजे गए प्रेस रिलीज में कहा गया है, "गवर्निंग कांउसिल (संचालन समीति) फुटेज की जांच और मामले पर कड़ी कार्यवाही का फैसला लेने के लिए आपातकाल बैठक करेगी."

स्पॉट फिक्सिंग

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक एक भारतीय टीवी चैनल ने स्टिंग आपरेशन कर आईपीएल में खिलाड़ियों, आयोजकों, मालिकों और खेल के बड़े नामों के बीच जारी 'घोटालों' का भांडाफोड़ करने का दावा किया है.

चैनल के मुताबिक स्टिंग आपरेशन के दौरान कई खिलाड़ियों ने स्वीकार किया है कि उन्हें नीलामी में जाहिर की गई बोली से कहीं अधिक पैसे मिलते हैं.

पीटीआई के मुताबिक स्टिंग में ये बात सामने आई कि केवल आईपीएल नहीं बल्कि पहले दर्जे के मैचों में भी 'फिक्सिंग' हो रही है.

समाचार एजेंसी ने बीसीसीईआई के प्रमुख एन श्रीनिवासन के हवाले से कहा है कि संस्था इस स्टिंग आपरेशन का टेप हासिल करेगी और इसकी जांच के बाद जो लोग भी दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

क्रिकेट के खेल में हाल के सालों में मैच फिक्सिंग का मामला बड़ा गर्म रहा है.

पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरूद्दीन पर इसी कारण आजीवन बैन लगा था. दक्षिण अफ्रीका के कप्तान हैन्सी क्रोनिये ने मैच फिक्सिंग की बात कबूल की थी.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.