आईपीएल: गेल की आँधी में बही दिल्ली

इमेज कॉपीरइट AFP

गुरुवार को हुए आईपीएल मुकाबलों में बंगलौर रॉयल चैलेंजर्स और किंग्स इलेवन पंजाब ने अपने अपने मैच जीत लिए.

बंगलौर-दिल्ली मुकाबले में दिल्ली की टीम क्रिस गेल की आँधी में बह गई तो पंजाब ने चेन्नई सुपर किंग्स को झटका दिया. क्रिस गेल ने आईपीएल का अपना पहला शतक लगाया और बंगलौर को 21 रनों से जीत दिलाई. बंगलौर के लिए ये मैच जीतना जरूरी था.

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में हुए मैच में बंगलौर ने दिल्ली के सामने 215 रनों का विशाल लक्ष्य रखा.

दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया. बंगलौर के लिए सलामी बल्लेबाज के तौर पर आए गेल ने पैर जमाने में थोड़ा सा वक़्त लिया. लेकिन एक बार रवानी में आने के बाद उन्हें रोकना नामुमकिन हो गया. तिल्करत्ने दिलशान भले ही सस्ते में आउट हो गए लेकिन उनकी जगह आए विराट कोहली भी गेल के नक्शे कदम पर चलते नजर आए.

दोनों ने मिलकर दिल्ली के गेंदबाजों की धज्जियाँ उड़ा दीं. गेल ने 37 गेंदों में 50 रन पूरे किए और फिर देखते ही देखते 53 गेंदों में सौकड़ा भी बना लिया (7 x 4, 9 x 6). इस आईपीएल में ये गेल का पहला शतक था.

कोहली भी फॉर्म में थे और जल्द ही अर्धशतक बनाया. बंगलौर ने 20 ओवरों में केवल एक विकेट गंवाकर 215 रन बनाए. क्रिस गेल 128 और कोहली 73 पर नाबाद रहे. गेल ने 128 रन 62 गेंदों में सात चौकों और 13 छक्कों की मदद से बनाए.

वीरेंदर सहवाग की गैर मौजदूगी में दिल्ली की कप्तानी महेला जयवर्धने ने की. 216 रनों के लक्ष्य का पीछा करने के लिए जो मजबूत शुरुआत दिल्ली को चाहिए थी वो उसे नहीं मिली. डेविड वार्नर, वेणुगोपाल राव, जयवर्धने कोई भी बड़ा स्कोर नहीं खड़ा पाया.

केवल रॉस टेलर कुछ देर तक टिक कर खेले लेकिन विनय कुमार की गेंद पर वे भी 55 रन बनाकर आउट हो गए. ये दिल्ली का छठा विकेट था. बाकी विकेट जल्दी जल्दी गिर गए. दिल्ली की टीम बीस ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 190 रन बना पाई.

गिली का कमाल

इमेज कॉपीरइट AP

उधर पंजाब-चेन्नई के मुकाबले में पंजाब ने टॉस जीता और पहले क्षेत्ररक्षण चुना. चेन्नई सुपर किंग्स की टीम कुछ खास बड़ा स्कोर नहीं खड़ा कर सकी. माइकल हसी, रैना, धोनी जैसे बल्लेबाज नाकाम रहे. केवल ब्रावो ने 48 रनों का योगदान दिया.

चेन्नई की टीम सात विकटों पर 120 रन ही बना पाई. प्रवीण कुमार, परविंदर अवाणा और अजहर महमूद की झोली में दो-दो विकेट आए.

बदले में पंजाब की पारी की शुरुआत कप्तान एडम गिलक्रिस्ट ने तूफानी अंदाज में की. मनदीप सिंह ने उनका साथ निभाया और 21 गेंदों में 24 रन बनाए. बाद के बल्लेबाज भले ही कुछ खास नहीं कर पाए लेकिन चेन्नई के लिए अकेले गिलक्रिस्ट ही काफी थे.

गिलक्रिस्ट ने 21 गेंद रहते ही जीत का लक्ष्य हासिल कर लिया. वे 64 रन बनाकर अंत तक आउट नहीं हुए. पंजाब ने मैच छह विकेट से जीता.

इस जीत के बाद प्ले ऑफ में जगह बनाने के लिए पंजाब की उम्मीदें बरकरार हैं जबकि वर्तमान चैंपियन चेन्नई के लिए मुश्किल खड़ी हो गई है.

संबंधित समाचार