अब सहवाग ने कहा, बयान तोड़ा-मरोड़ा गया

सहवाग इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption श्रीलंका के खिलाफ वनडे सिरीज में सहवाग को टीम में जगह मिली थी

भारतीय क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग ने कहा है कि मीडिया ने महेंद्र सिंह धोनी के मामले पर दिए उनके बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया है.

शुक्रवार को वीरेंदर सहवाग ने सबा करीम-जेनेसिस प्रो क्रिकेट सेंटर का उदघाटन करते हुए कहा था कि भारत ने 2007 में टी-20 विश्व कप और 2011 के विश्व कप में मजबूत टीम के कारण जीत हासिल की थी.

बाद में जब मीडिया में उनका बयान छपा कि सहवाग ने ये कहा है कि सिर्फ धोनी की कप्तानी के कारण भारत ने विश्व कप नहीं जीते थे, तो सहवाग ने ट्विटर पर लिखा कि उन्होंने सिर्फ इतना कहा था कि भारत की टीम अच्छी थी, इसलिए धोनी की कप्तानी में हमने दो विश्व कप जीते.

उन्होंने ट्विटर पर आगे लिखा है- दुर्भाग्य से मेरे बयान को तोड़-मरोड़कर खबर बनाने की कोशिश की गई है.

गैर जिम्मेदाराना रुख

सहवाग ने लिखा है- महेंद्र सिंह धोनी अच्छे कप्तान हैं और वे उन कप्तानों में शामिल हैं, जो सबसे सफलतम कप्तान रहे हैं. मेरे बयान का कोई और मतलब निकालना गैरजिम्मेदाराना है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक सहवाग ने कहा था कि भारत ने अच्छी टीम की बदौलत 2011 का विश्व कप जीता था.

ये पूछे जाने पर कि क्या धोनी के कारण भारत ने 2007 में ट्वेन्टी-20 विश्व कप और 2011 का विश्व कप जीता था, सहवाग ने कहा, "धोनी को एक मजबूत टीम मिली थी. जब आपको एक मजबूत टीम मिलती है, आपके लिए अच्छा प्रदर्शन करना आसान हो जाता है. जैसा एक समय ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ था. हम विश्व कप इसलिए जीते क्योंकि हमारी टीम अच्छी थी और टीम को धोनी के नेतृत्व का भी सहारा मिला."

अब सहवाग ने अपने बयान पर स्पष्टीकरण दिया है.

संबंधित समाचार