युवराज लडेंगे कैंसर जागरूकता की लड़ाई

 शनिवार, 7 जुलाई, 2012 को 15:02 IST तक के समाचार

कैंसर की लड़ाई से जीत कर क्रिकेट के मैदान पर वापसी की कोशिश कर रहे क्रिकेटर युवराज सिंह अब कैंसर के प्रति जागरूकता फैलाएंगे.

युवराज सिंह ने कैंसर के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए ‘यू वी कैन’ नाम की संस्था बनाई हैं.

ये संस्था लोगों को कैंसर की जांच करवाने के लिए प्रेरित करेगी और जांच सुविधाएं उपलब्ध कराएगी.

इस संस्था को ‘यू वी कैन’ नाम दिए जाने के पीछे की सोच पर युवराज सिंह ने कहा, “ये नाम हमने बहुत सोच समझकर रखा है. इफ यूवी कैन, यू कैन, यानी अगर युवी कर सकते हैं तो आप भी कर सकते हैं.”

मकसद

"ये नाम हमने बहुत सोच समझकर रखा है. इफ यूवी कैन, यू कैन, यानी अगर युवी कर सकते हैं तो आप भी कर सकते हैं."

युवराज सिंह

इस मौके पर युवराज सिंह ने बताया कि उनकी संस्था का मकसद लोगों को जांच के लिए प्रेरित करना है ताकि कैंसर को पहले स्तर पर ही पहचाना जा सके.

क्रिकेट मैंदान पर वापसी के सवाल पर युवराज कहते हैं, “मैं कई बार कह चुका हूं कि मेरी कोशिश टी-20 क्रिकेट विश्व कप तक वापसी करने की है. अभी मुझे प्रेक्टिस करते हुए एक महीना ही हुआ है और मेरे पास दो महीने का समय बाकी है.”

युवराज ने इस मौके पर कहा,“अच्छा हुआ मेरे कैंसर का पता विश्व कप के बाद चला वर्ना मैं विश्व कप ना खेल पाता.”

युवराज ने स्वीकार किया कि उनकी वापसी आसान नहीं होगी क्योंकि उन्हें लगभग अपनी हर मांसपेशी को दोबारा मज़बूत करना पड़ रहा है.

अर्जुन पुरस्कार

युवराज सिंह को इस साल अर्जुन अवार्ड के लिए नामांकित किया गया है.

अर्जुन अवार्ड का नामांकन मिलने पर युवराज सिंह ने कहा, “अर्जुन अवार्ड के लिए नामांकित होना गर्व की बात है. ये मेरा दूसरा नामांकन हैं इससे पहले भी मुझे नामांकित किया गया था, उम्मीद करता हूं कि मैं अबकी बार भाग्याशाली रहूं.”

इस मौके पर एक पत्रकार ने युवराज से शादी के बारे में भी सवाल कर डाला जिसके जवाब में उन्होंने ने कहा, “शादी कब होगी इसके बारे में तो मेरी मां ही बता सकती है. जहां तक दूसरे कैंसरे पीडितों को प्रेरित करने की बात है, मैं ये कह सकता हूं कि जो इंसान, लड़का या लड़की कैंसर को हरा सकता हैं वो जरूर एक अच्छा जीवनसाथी साबित होगा.”

इस मौके पर युवराज सिंह ने बच्चों के साथ क्रिकेट भी खेला और अपने चाहनेवालों के साथ खूब फोटो खिंचवाए.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.