मरे की हार पर ब्रिटेन के अख़बार

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption रूआँसे मरे कोर्ट पर हारे, मगर देश का दिल जीता - द डेली टेलीग्राफ़

ब्रिटेन में रविवार की तरह सोमवार के भी सभी अख़बारों में विंबलडन में लोकल हीरो एंडी मरे और रोजर फेडरर की टक्कर की खबरें भरी हुई हैं.

अख़बार गार्डियन ने सुर्खी लगाई है – क्राइंग गेम. उसके मुखपृष्ठ पर मुस्कुराते फ़ेडरर औऱ रूआँसे मरे की तस्वीर है और रिपोर्टर की पहली पंक्ति है – इस रिपोर्ट को आँसुओं में डूबी ब्रिटेन के खेल इतिहास की बेहद नज़दीकी असफलताओं के रूप में फाइल किया जाएगा ना कि मशहूर जीतों के अध्याय के साथ.

अखबार लिखता है कि सेंटर कोर्ट पर मौजूद अधिकतर लोग, जिनमें कुछ 5000 पाउंड तक देकर आए थे, मरे का हौसला बढ़ा रहे थे मगर फेडरर के लिए भी समर्थन कम नहीं था. मरे ने वो हर कौशल दिखाया जिसने उन्हें इस मुकाम पर पहुँचाया है मगर अंततः फेडरर ने अपने सटीक खेल और किलर इन्स्टिन्क्ट दिखाकर 17वाँ ग्रैंड स्लैम हासिल किया.

गार्डियन ने कोर्ट से बाहर विंबलडन परिसर में बड़े स्क्रीन पर मैच देख रही एक महिला मरे समर्थक के कथन को लिखा है – टिम हेनमैन के साथ हमें पहले से पता होता था कि वो नहीं जीतेगा, मगर मरे एक विजेता लग रहा था. तो इस बार हमारा दुख और बड़ा है. मगर वो लौटेगा.

अखबार ने अपने खेल पन्ने पर और विस्तार से लिखा है और कहा है कि मरे अच्छे खिलाड़ी हैं मगर कल वो इतने अच्छे नहीं थे कि फेडरर को हरा सकें. फेडरर जिस फॉर्म में थे उसमें उनका मुकाबला कोई कर पाता, इसमें संदेह है. अखबार ने की प्रतिक्रियाएँ दी हैं, इनमें बोरिस बेकर की टिप्पणी भी है – मरे चैंपियन की तरह खेले. रोजर फेडरर से हारने में कोई शर्म की बात नहीं.

एक और अख़बार डेली टेलीग्राफ़ के मुखपृष्ठ पर आँसू पोंछते एंडी मरे और मुँह पर हाथ रख रोतीं उनकी गर्लफ्रेंड किम सीयर्स की तस्वीरें हैं. साथ में लिखा है – रूआँसे मरे कोर्ट पर हारे, मगर देश का दिल जीता

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption एंडी – हम जानते है तुम्हें कैसा लग रहा होगा - इंडिपेंडेंट

अखबार ने अपनी मुख्य रिपोर्ट में लिखा है – हाँ वो हारे, हाँ वो 1936 के फ्रेड पेरी की अंतिम जीत का इतिहास दोहराने में नाकाम रहे, मगर जब वो पीछे पलटकर इस घड़ी को देखेंगे तो पाएँगे कि उन्होंने वो कर दिखाया, वो उनके आलोचक कहा करते थे कि असंभव है.

अखबार के दूसरे और तीसरे पन्ने पर मुस्कुराते फेडरर मरे को दिलासा दे रहे हैं. साथ ही उनके मैच को देखने आए प्रधानमंत्री डेविड कैमरन, उपप्रधानमंत्री निक क्लेग, लंदन के मेयर बोरिस जॉन्सन, फुटबॉल स्टार डेविड बेकम तथा प्रिंस विलियम की पत्नी केट मिडलटन और उनकी बहन पिपा मिडलटन की तस्वीरें हैं.

अखबार ने इन तस्वीरों के ऊपर दोनों पन्नों पर बिखरती सुर्खी लगाई है – कुछ देर के लिए हम एक ऐसे समानांतर ब्रह्मांड में विचर रहे थे जहाँ हमारा हीरो जीत सकता था.

अखबार ने मैच के बारे में लिखा है – एक ऐसा दिन, जब एक बहुत अच्छा खिलाड़ी, एक सचमुच के महान खिलाड़ी के साथ खेला.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption लड़कियों, आँसू ना बहाओ,उसने हमारा गौरव बढ़ाया है - डेली मिरर

टेलीग्राफ़ ने संपादकीय में लिखा – इसमें शर्म की कोई बात नहीं. अंततः ब्रिटेन का मिजाज़ नहीं बल्कि मौसम भारी पड़ा. जैसे ही बारिश हुई और कवर आए, हमने देखा कि क्यों फ़ेडरर को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ इंडोर टेनिस खिलाड़ी कहा जाता है.

अख़बार ने अपने खेल सप्लीमेंट में लिखा है - जब एक टैलेंट किसी जीनियस से भिड़ता है तो जीत केवल एक की ही होती है. इस हार में कोई शर्म नहीं.

अख़बार का कार्टून दिलचस्प है - बारिश ही बारिश हो रही है, नीचे पानी भरा है, और उसमें विंबलडन का कप डूब रहा है.

एक और अखबार टाइम्स ने आँसू पोंछते मरे की तस्वीर छापी है और उनके कल हार के बाद के संबोधन को उद्धृत किया है – मैं बहुत पास आ गया था.

टाइम्स की मुख्य रिपोर्ट में लिखा है - उनकी हार के पीछे बहाना ढूँढने की जरूरत नहीं, वो एक बेहतर खिलाड़ी से हारे. अख़बार ने अपने संपादकीय में भी लिखा है - मरे इस खेल के महानतम खिलाड़ी से हार गए हों मगर उन्होंने एक चैंपियन का जिगरा और योग्यता दिखाई है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption एंडी ने हमारा गौरव बढ़ाया – पर अब ओलंपिक समय है - द सन

अख़बार ने दिलासा देने के अंदाज मे लिखा है – हाँ, इस बार एक ब्रिटिश खिलाड़ी जीता है, मगर उसका नाम मरे नहीं, मैरे है, और उसने डबल्स का खिताब जीता है, 1936 के बाद ये खिताब जीतनेवाला पहला ब्रिटिश खिलाड़ी.

टाइम्स का कार्टून भी मज़ेदार है – एक पति अख़बार पढ़ रहा है जिसकी हेडलाईन है – ब्रिटेन थम गया है. और पति पूछ रहा है – एंडी मरे के कारण या बारिश के कारण?

इसके अतिरिक्त एक और अख़बार इंडिपेंडेंट ने मुखपृष्ठ पर आह भरते एंडी मरे की तस्वीर लगाई है और लिखा है - एंडी – हम जानते है तुम्हें कैसा लग रहा होगा.

लोकप्रिय टेब्लॉयड अख़बार डेली मिरर ने केट मिडलटन, एंडी मरे और उनकी गर्लफ़्रेंड की रोती तस्वीरें लगाई हैं और लिखा है - लड़कियों, आँसू ना बहाओ,उसने हमारा गौरव बढ़ाया है.

एक और टेब्लॉयड द सन का मुखपृष्ठ दिलचस्प है, उसपर रोते एंडी मरे की तस्वीर तो है ही, साथ ही एथलीट जेसिका एनिस की भी तस्वीर छपी है और बड़ा शीर्षक है – कोई एनिस के बारे में पूछेगा? इसके नीचे लिखा है - एंडी ने हमारा गौरव बढ़ाया – पर अब ओलंपिक समय है.

संबंधित समाचार