टुअर डे फ़्रांस: विगिन्स बने पहले ब्रितानी विजेता

 सोमवार, 23 जुलाई, 2012 को 01:57 IST तक के समाचार
ब्रै़डली विगिन्स

विगिन्स टुअर डे फ्रांस जीतने वाले पहले ब्रितानी बन गए हैं

ब्रितानी ब्रैडली विगिन्स साइक्लिंग प्रतियोगिता क्लिक करें टुअर डे फ्रांस जीतने वाले पहले ब्रितानी बन गए हैं.

विगिन्स ने तीन मिनट 21 सेकेंड के अंतराल से जीत दर्ज की है. विगिन्स की स्काई टीम के साथ क्रिस फ्रूम दूसरे और इटली के विन्सेन्ज़ो निबाली तीसरे स्थान पर रहे.

उधर ब्रितानी मार्क कैवेंडिश ने अंतिम दौर जीता और इस तरह ये उनका टुअर डे फ्रांस पर अब तक के कुल 23वें दौर की जीत थी.

विगिन्स को यूँ तो शनिवार को ही अजेय बढ़त मिल गई थी मगर उन्होंने पेरिस की सड़कों पर आसानी से जीत की औपचारिक इबारत लिख दी.

तीन बार ओलंपिक के चैंपियन विगिन्स ने हाथ ऊपर उठाकर जीत की रेखा पार की और ये जीत हासिल करके विगिन्स ने न सिर्फ़ जीत की लंबे समय की इच्छा पूरी की बल्कि साइक्लिंग के महान लोगों में अपना नाम भी शुमार करा लिया.

अदभुत अनुभव

"अभी मुझे आकर्षण का केंद्र बनकर सहज रहने में समय लगेगा. आप सोचते भी नहीं कि आपके साथ ऐसा हो सकता है मगर ये अदभुत अनुभव है"

ब्रैडली विगिन्स, जीत के बाद

विगिन्स ने जीत के बाद कहा, "मुझे पता नहीं कि क्या कहूँ. वैसे मुझे ये अनुभव अपने आप में समेटने के लिए 24 घंटों का समय था. अभी मुझे आकर्षण का केंद्र बनकर सहज रहने में समय लगेगा. आप सोचते भी नहीं कि आपके साथ ऐसा हो सकता है मगर ये अदभुत अनुभव है."

टुअर डे फ्रांस का ये 99वाँ संस्करण था जिसमें विगिन्स ने 20 चरणों में 2173 मील की दूरी तय की. विगिन्स 2009 में चौथे स्थान पर रहे थे जबकि 2011 में वो जीत के दावेदार रहते हुए अपनी कॉलर की हड्डी तुड़वा बैठे थे.

इस जीत के साथ ही टीम स्काई पहले और दूसरे दोनों नंबरों पर क़ब्ज़ा करने में क़ामयाब रही.

वैसे 2011 में ऑस्ट्रेलिया के पहले चैंपियन रहे कैडेल इवान्स विगिन्स से लगभग 16 मिनट पीछे रहे.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.