ओलंपिक: चीनी खिलाड़ी माँगेंगी सार्वजनिक माफ़ी

आठ खिलाड़ी इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption आठ खिलाड़ी जिन्हें अयोग्य ठहराया गया है

लंदन ओलंपिक में बैडमिंटन के महिला युगल मुक़ाबले में जानबूझकर हारने वाली दोनों खिलाड़ी और उनकी टीम की प्रमुख सार्वजनिक रूप से माफ़ी माँगेंगी.

ओलंपिक से ये खिलाड़ी बाहर की जा चुकी हैं और उनमें से एक चीन की यू यांग ने अब ये 'खेल छोड़ने की' ही घोषणा कर दी है.

चीन की दो ओलंपिक खिलाड़ी यू यांग और वांग उन आठ खिलाडियों में शामिल थीं जिन्हें हारने के प्रयास करने के लिए अयोग्य ठहराया गया था.

शिन्हुआ समाचार एजेंसी के अनुसार चीनी अधिकारियों ने बैडमिंटन खिलाड़ियों से माफी माँगने के लिए कहा है.

इस सब विवाद के बीच यू यांग ने ट्विटर की तरह चीन में चलने वाली सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट वेबो के अपने अकाउंट पर लिखा, ''यह मेरा आखिरी मुकाबला है. अलविदा अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन संघ; अलविदा प्यारे बैडमिंटन.''

यू और वांग के अलावा दक्षिण कोरिया की युगल खिलाड़ी जंग क्यूंग-इअन और किम हा-ना, तथा हा जंग-इअन और किम मिन-जंग को अयोग्य ठहराया गया था.

इनके अलावा इंडोनेशिया की ग्रेसिया पोलाई और मेलियाना जौहरी को भी अयोग्य ठहराया गया था.

आरोप

सभी चार जोड़ियों पर आरोप लगाया गया था कि वे हारना चाहती थीं ताकि नॉकआउट मैचों में उन्हें आसान मुक़ाबले मिल सकें.

मंगलवार को चीन और दक्षिण कोरिया की जोड़ियों के बीच हुए मैच के दौरान इन खिलाड़ियों के आधे मन से खेले जा रहे खेल को देख स्टेडियम में मौजूद दर्शकों ने ख़ूब शोर-शराबा किया.

दरअसल चीन और दक्षिण कोरिया के मैच में एक-दूसरे का सामना कर रही जोड़ियां पहले ही क्वार्टर फाइनल में पहुंच चुकी थीं.

आसान मैचों की खातिर

इसके बाद ऐसा समझा जा रहा है कि दोनों ने ही मैच हारने की कोशिश की ताकि उन्हें क्वार्टर फाइनल में आसान टीमों से मुक़ाबला मिले. अंततः दक्षिण कोरिया की टीम जीत गई.

मैच के बाद दक्षिण कोरिया की जोड़ी ने तो कोई टिप्पणी नहीं की थी लेकिन चीन की यू ने कहा कि वांग और नॉक-ऑउट स्तर के लिए अपना दमखम बचाकर रखना चाहती थीं.

इस मैच के बाद दक्षिण कोरिया और इंडोनेशिया की जोड़ियों के बीच मैच हुआ और उसपर भी सवाल उठाए गए.

संबंधित समाचार