9.63 सेकेंड: बोल्ट सबसे तेज़

इमेज कॉपीरइट Getty

जैमका के धावक यूसेन बोल्ट ने लंदन में ये सुनिश्चित किया कि वो ही विश्व के सबसे तेज़ धावक हैं. ओलंपिक की 100 मीटर दौड़ में अपनी बादशाहत बरकरार रखते हुए यूसेन बोल्ट ने ये दौड 9.63 सेकेंड में पूरी की.

9.63 सेकेंड का समय ओलंपिक रिकार्ड रहा जबकि ये उनका दूसरा सबसे तेज़ समय था.

बोल्ट के ट्रेनिंग साथी और ओलंपिक क्वालिफायर में बोल्ट को मात देने वाले जैमेका के ही योहान ब्लेक 9.75 सेकेंड के साथ दूसरे स्थान पर रहे और उन्हें रजत पदक मिला.

2004 ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले अमरीका के जस्टिन गैटलिन 9.79 सेकेंड के साथ तीसरे स्थान पर रहे. जबकि 2007 के विश्व चैंपियन टाइसन गे सैकेंड के100वें हिस्से से पिछड़ते हुए 9.80 सेकेंड के साथ चौथे स्थान पर रहे.

रेस जीतने के बाद बोल्ट ने कहा, “ट्रैक पर मैंने अपने आप से कहा कि लोग भले ही बात करें लेकिन मेरे लिए चैंपियनशिप का मतलब दौड़ है और मैंने ये कर दिखाया. ये शानदार है मुझे पता था कि ये दर्शकों को पसंद आएगा. जीत के बाद मैं लोगों का जोश महसूस कर सकता हूं और मैं बहुत खुश हूं.”

2011 में गलत शुरुआत की वजह से विश्व चैंरियनशिप गवा चुके बोल्ट ने कहा कि शुरुआत को लेकर वो इस रेस में भी चिंतित थे. “मैं अपनी शुरुआत को लेकर थोड़ा चिंतित था, मेरे कोच ने मुझसे कहा शुरुआत के बारे में चिंता करना छोड़ो तुम्हारी रेस का सबसे खास हिस्सा उसका अंत होता है.”

जब लंदन में बोल्ट 100 मीटर का इतिहास बना रहे थे तब ओलंपिक पार्क स्टेडियम में 80000 दर्शक अपनी सांसे रोके इस मौके के गवाह बन रहे थे.

लंदन ओलंपिक में आने से पहले बोल्ट की फिटनेस पर सवाल उठ रहे थे और उन्होंने बीबीसी से खास बातचीत में कहा था कि वो केवल 95 फ़ीसदी ही फिट हैं.

रेस से पहले 2008 बीजिंग के अपने खिताब को बचाने उतरे बोल्ट पर कोई दबाव नहीं दिखाई दिया. कैमरे पर उन्होंने अपने डीजे मिक्सिंग वाले अंदाज भी दिखाए.

संबंधित समाचार