कैसे हराया एंडी मरे ने फ़ेडरर को

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption मरे ने टेनिस में पुरुषों का स्वर्ण पदक जीता

कुछ हफ़्तों पहले विंबलडन के फ़ाइनल मुक़ाबले में विश्व नंबर एक रोजर फेडरर ने ब्रिटेन के एंडी मरे को आसानी से हराया था.

लेकिन लंदन ओलंपिक के फ़ाइनल मुकाबले में इसी सेंटर कोर्ट पर मरे ने पासा पलटा और फेडरर को 6-2, 6-1, 6-4 से मात दी.

क्या खास रहा रविवार को मरे के खेल में जानने के लिए बीबीसी ने बात की ब्रिटेन के टेनिस सितारे टिम हेनमैन, एनाबेल क्रॉफ़्ट और वर्ष 1988 के यूएस ओपन चैंपियन मैट्स विलैंडर से.

कैसे हराया फेडरर को

हेनमैन: "मरे के पास फेडरर के सभी सवालों का जवाब था. उन्होंने लगातार दबाव बनाए रखा. फे़डरर अपना सर्वश्रेष्ठ खेल नहीं खेल रहे थे, लेकिन वो इसलिए भी क्योंकि मरे ने उन्हें खेलने का मौका ही नहीं दिया. मरे के लिए दुनिया के सबसे महान खिला़ड़ी को हराकर स्वर्ण जीतना सचमुच जबर्दस्त प्रदर्शन है."

क्रॉफ्ट:"वो बहुत तेज़ी के साथ शॉट्स लगा रहे थे और आत्मविश्वास से भरे थे. वो इतने फिट थे कि कुछ घंटे और वैसे ही खेल सकते थे."

विलैंडर: "मरे ने विंबलडन फ़ाइनल से काफी सीख ली जहां उन्होंने पहला सेट जीता था और अच्छी लीड बनाई थी. ओलंपिक फाइनल में उन्होंने अपने खेल का वो स्तर लगातार बनाए रखा."

ये कितनी बड़ी जीत है

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption मरे हर क्षेत्र में फे़डेरर से बेहतर खिलाड़ी लगे.

हेनमैन: "बहुत बड़ी जीत है क्योंकि उन्होंने पांच सेट के फाइनल में हराया और वो भी एक ऐसे कोर्ट पर जिस पर फेडरर ने सात बार खिताब जीता है. मरे हर डिपार्टमेंट में फेडरर से बेहतर खिलाड़ी लगे"

क्रॉफ्ट: "उन पर अब यूएस ओपन में जीत का दबाव होगा. किस तरह वो इस दबाव से निपटते हैं हमें बताएगा वो आगे कितना सफल हो सकते हैं."

विलेंडर: "उनके आत्मविश्वास में जबर्दस्त बढ़ोतरी होगी. हमें मालूम है कि शारीरिक रूप से वो कितने फिट और सक्षम हैं. लेकिन इस जीत में उन्होंने मानसिक शक्ति का भी उदाहरण दिया."

अब आगे क्या

हेनमैन: "जोकोविच ने ऑस्ट्रेलियाई ओपन जीता, नडाल ने फ्रेंच ओपन, फेडरर ने विंबलडन और अब मरे ने ओलंपिक स्वर्ण जीता है. इससे यूएस ओपन के लिए दौड़ रोमांचक बन गई है."

क्रॉफ्ट: "जब वो अपने सबसे अच्छे स्तर पर खेलते हैं उस वक्त उनसे मुकाबला करना असंभव है. मैं ये नहीं कहती कि वो फेडरर से बेहतर हैं लेकिन जोकोविच से जरूर ज्यादा प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं. नडाल भी प्रतियोगिता से इतने वक्त दूर रहकर कमज़ोर पड़ गए हैं."

विलेंडर: "यूएस ओपन एक अलग प्रतियोगिता है लेकिन वो अब इस सोच के साथ जा सकते हैं कि वो वहां जीत सकते हैं.

संबंधित समाचार