लंदन के हवाई अड्डों पर दो लाख अधिकारी-एथलीट

 सोमवार, 13 अगस्त, 2012 को 18:25 IST तक के समाचार
हिथ्रो टर्मिनल

हिथ्रो हवाई अड्डे पर बनाए अस्थाई टर्मिनल में बैठे मैक्सिको के एथलीट

लंदन ओलंपिक खेलों के ख़त्म होने के बाद अब लंदन के हवाई अड्डों पर दो लाख लोग अपने-अपने देश लौटने के लिए जमा हो रहे हैं.

अकेले हीथ्रो हवाई अड्डे पर एक लाख 16 हज़ार यात्री आने वाले हैं. इस हवाई अड्डे ने 31 काउंटर का एक नया अस्थाई गेम्स टर्मिनल खोला है.

उधर गैटविक हवाई अड्डे पर 70 हज़ार यात्री आने की उम्मीद है जिनमें दो सौ चीनी एथलीट भी शामिल होंगे.

कनाडा, पोलैंड और ऑस्ट्रिया के खिलाड़ी सबसे पहले अपने वतन लौटे हैं.

व्यस्त दिन

"हमारा अनुमान है कि हिथ्रो से एक लाख 20 हज़ार लोग अपने घरों को रवाना होंगे. ये एक आम दिन की तुलना में 30 प्रतिशत अधिक व्यस्त दिन होगा. ये बहुत ही चुनौती भरा काम है. "

निक कोल

गैटविक हवाई अड्डे की एक प्रवक्ता ने कहा, “हमारे पास 18 चीनी भाषा बोलने वाले स्वयंसेवी हैं जो चीनी एथलीटों की सहायता करेंगे. सोमवार को खेलों से संबंधित 223 फ़्लाइटें गैटविक से उड़ेंगी.”

उधर हीथ्रो की एक प्रवक्ता ने बताया कि उनके एयरपोर्ट से सबसे पहले पोलैंड और ऑस्ट्रिया के एथलीट लौटे हैं.

हीथ्रो पर बनाया अस्थाई टर्मिनल लंदन ओलंपिक के लिए एयरपोर्ट के दो करोड़ पाउंड के निवेश का हिस्सा है.

31 काउंटरों के अलावा हीथ्रो पर सात सुरक्षा जांच की जगहें बनाई गई हैं ताकि बड़ी संख्या में लंदन से बाहर उड़ रहे यात्रियों की सहायता की जा सके.

इस टर्मिनल को तीन दिन में बंद कर दिया जाएगा और तब ये एक बार फिर से कर्मचारियों की कार पार्किंग बन जाएगी.

हीथ्रो एयरपोर्ट का कहना है कि लंबी फ़्लाइट पर जाने वाले साधारण यात्रियों को आम दिनों की तरह तीन घंटे पहले हवाई अड्डे पर चेक-इन करना होगा.

हीथ्रो एयरपोर्ट में ओलंपिक योजना के प्रमुख निक कोल ने कहा, “हमारा अनुमान है कि हिथ्रो से एक लाख 20 हज़ार लोग अपने घरों को रवाना होंगे. ये एक आम दिन की तुलना में 30 प्रतिशत अधिक व्यस्त दिन होगा. ये बहुत ही चुनौती भरा काम है. ”

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.