टी-20 विश्वकप का सफर

टी-20 विश्वकप का इतिहास

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) टी-20 क्रिकेट विश्वकप का आयोजन करता है. आईसीसी के दस पूर्ण सदस्य इसके लिए स्वत: क्वालीफाई कर जाते हैं. बाकी दो टीमें टी-20 क्वालीफायर मैचों के जरिए आती हैं.पहला टी-20 विश्वकप दक्षिण अफ्रीका में सितम्बर 2007 में हुआ था.

टी-20 विश्व कप, 2007

पहले टी-20 विश्वकप का आयोजन वर्ष 2007 में दक्षिण अफ्रीका में हुआ.

इसमें कुल 12 टीमों ने हिस्सा लिया जिन्हें चार ग्रुप में बांटा गया था.

चिर-प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान एक ही ग्रुप में थे.

फाइनल मुकाबला भारत और पाकिस्तान के बीच जोहानेसबर्ग में खेला गया.

भारत ने निर्धारित 20 ओवर में पांच विकेट खोकर 157 रन बनाए.

जबाव में पाकिस्तान 19.3 ओवर में 152 रन ही बना पाया.

इस तरह भारत ने पाकिस्तान को पांच रन से हरा दिया.

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को शिकस्त देकर फाइनल में जगह बनाई थी.

वहीं पाकिस्तान, न्यूज़ीलैंड को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा था.

टी-20 विश्वकप, 2009

दूसरे टी-20 विश्वकप का आयोजन वर्ष 2009 में इंग्लैंड में हुआ.

इसमें कुल 12 टीमों ने हिस्सा लिया जिन्हें चार समूहों में बांटा गया था.

चिर-प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान इस बार अलग-अलग ग्रुप में थे.

फाइनल मुकाबला पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच लॉर्ड्स में खेला गया.

श्रीलंका ने निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट खोकर 138 रन बनाए.

जबाव में पाकिस्तान ने 18.4 ओवर में दो विकेट खोकर 139 रन बनाए.

पहले टी-20 विश्वकप की उपविजेता पाकिस्तान इस बार विजेता बनी.

पाकिस्तान ने दक्षिण अफ्रीका को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी.

वहीं श्रीलंका, वेस्टइंडीज़ को हराकर फाइनल में पहुंचा था.

टी-20 विश्वकप, 2010

तीसरे टी-20 विश्वकप का आयोजन वर्ष 2010 में वेस्टइंडीज में हुआ.

इस बार भी कुल 12 टीमें थीं जिन्हें चार ग्रुप में बांटा गया था.

पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया एक ग्रुप में जबकि भारत और दक्षिण अफ्रीका दूसरे ग्रुप में थे.

फाइनल मुकाबला इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच बार्बाडोस में खेला गया.

ऑस्ट्रेलिया ने छह विकेट खोकर निर्धारित 20 ओवर में 147 रन बनाए.

जबाव में इंग्लैंड की टीम ने 17 ओवर में तीन विकेट पर 148 रन बनाए.

दोनों ही टीमें पहली बार फाइनल में पहुंची थी. खिताब पर इंग्लैंड का कब्जा हुआ.

इंग्लैंड, श्रीलंका को शिकस्त देकर फाइनल में पहुंचा था.

वहीं ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी.

संबंधित समाचार