अकमल का कमाल, भारत पर भारी पाक

  • 17 सितंबर 2012
Image caption रविचंद्रन अश्विन ने चार ओवर में चार विकेट झटके लेकिन जीत फिर भी पाकिस्तान की ही हुई.

टी20 विश्व कप शुरू होने के एक दिन पहले भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए अभ्यास मैच में पाकिस्तान ने भारत को एक कांटे की टक्कर में पांच विकेट से हरा दिया है.

टी20 विश्व कप से जुड़ी सामग्री पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सोमवार को कोलंबो के प्रेमदासा स्टेडियम में टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया था. भारतीय बल्लेबाजों ने निर्धारित 20 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर 185 रन बनाए.

जवाब में पाकिस्तान की टीम ने कामरान अकमल की आतिशी बल्लेबाज़ी की बदौलत भारत को पांच विकेट से मात दी.

Image caption कामरान अकमल और शोएब मलिक की जोड़ी रोहित शर्मा और विराट कोहली की जोड़ी पर भारी पड़ी.

आखिरी ओवर की पहली गेंद पर छक्का जड़ते हुए अकमल सिर्फ़ 50 गेंदों पर 92 रन बनाकर नाबाद रहे. जबकि दूसरे छोर पर शोएब मालिक 18 गेंदों पर 37 रन बनाकर अंतिम गेंद तक डटे रहे.

हालांकि पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज़ों मोहम्मद हफीज और इमरान नाजिर ने ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी से पारी की शुरुआत की, लेकिन उनकी साझेदारी को बहुत जल्द तोडा भारतीय स्पिनर आर आश्विन ने.

मैच में अश्विन का प्रदर्शन देखकर भारतीय खेमे ने राहत की सांस ज़रूर ली होगी.बहराल इमरान नाजिर जब 13 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर आउट हुए उसके बाद क्रीज़ पर आए नासिर जमशेद भी एक गलती के कारण रन आउट हो गए, और वो भी शून्य पर. गंभीर की बेहतरीन फील्डिंग की यहाँ दाद देना ज़रूरी है.

हालांकि पाकिस्तानी कप्तान हफीज दूसरे छोर पर डटे रहे और उन्होंने क्रीज़ पर आए बल्लेबाज़ कामरान अकमल का जमकर साथ भी दिया. जबकि लग रहा था कि हफीज़ एक बड़ी पारी खेलेंगे, आश्विन ने उन्हें अपनी फिरकी के जादू में लपेटा और 38 के निजी स्कोर पर पवेलियन लौटा दिया.

उनकी जगह आए पूर्व कप्तान शाहिद आफरीदी भी आयाराम-गयाराम से रहे और शून्य पर ही अपना विकेट गँवा बैठे. इसके बाद उमर अकमल के आउट होने पर लगा कि पाकिस्तानी पारी अब ख़त्म होने कि कगार पर है. पर क्रिकेट भी तो अनिश्चितताओं का खेल है!

कामरान अकमल और शोएब मालिक ने जब भारतीय गेंदबाजों की धुनाई शुरू की तो फिर ज़हीर खान से लेकर बालाजी तक, सभी की गेंदबाजी की औसत बिगाड़ कर रख दी.

भारतीय पारी

इससे पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत ने बीस ओवर में तीन विकेट खोकर 185 रन बनाए. भारत के लिए विराट कोहली ने 47 गेंदों पर 75 रन बनाए. इसके अलावा रोहित शर्मा ने भी अच्छा प्रदर्शन करते हुए 40 गेंदों पर 56 रन बनाए.

Image caption कामरान अकमल शुरू से मैच के नियंत्रण में दिखे और उन्होंने मैच छक्के के साथ पाकिस्तान के नाम किया

भारतीय टीम ने शुरुआत से ही इस मैच पर अपनी पकड़ जमाने की मंशा ज़ाहिर कर दी थी. साथ ही भारत को अपने दोनों नियमित सलामी बल्लेबाजों वीरेंदर सहवाग और गौतम गंभीर से क्रीज़ पर डटकर एक लंबी पारी खेलने की भी उम्मीद थी.

सहवाग तो शुरुआत से ही आक्रामक दिखे लेकिन गौतम गंभीर ने शुरूआती ओवर की तीसरी गेंद पर एक चौका जड़ने के बावजूद निराश ही किया. 16 गेंदों में मात्र 10 रन बनाने के बाद गंभीर को उमर गुल ने खूबसूरती से बीट करते हुए बोल्ड आउट किया.

गंभीर की असफलता ने दिखा दिया कि कप्तान धोनी की टीम को अच्छी शुरुआत मिलने वाली मुश्किल अब भी बरक़रार है. दूसरे छोर पर वीरेंदर सहवाग जमकर बल्लेबाज़ी करने के मूड में दिखे और उन्होंने विकेट की दोनों तरफ कुछ बेहतरीन शॉट भी लगाए.

लेकिन सहवाग ने एक बार फिर से वही किया जिसके लिए हमेशा से ही उनके चाहने वालों को डर लगा रहता है. एक छक्का जड़ने के तुरंत बाद उन्होंने एक कट लगाने की कोशिश की और शाहिद आफरीदी ने एक बेहतरीन कैच लपक कर उन्हें क्रीज़ से चलता कर दिया.

चार चौकों और एक छक्के की मदद से सहवाग ने 26 रन बनाए. लेकिन इन शुरूआती विकेटों के बाद क्रीज़ पर पहुंचेदो युवा खिलाड़ी.

विराट और रोहित की जोड़ी

Image caption विराट कोहली और रोहित शर्मा ने तीसरे विकेट के लिए 127 रनों की साझेदारी की

इनमे विराट कोहली तो बीते दिनों से ज़बरदस्त फॉर्म में चल ही रहे हैं और दूसरे रोहित शर्मा को भी अपने चयन को सही ठहराना ही था.

दोनों बल्लेबाजों ने जमकर पाकिस्तानी गेंदबाजों की धुनाई की. चाहे सोहेल तनवीर हो या फिर उमर गुल और मोहम्मद सामी ही क्यूं न हो, सभी गेंदबाजों के छक्के छुड़ा दिए इन दो बल्लेबाजों ने.

बेहतर फॉर्म और विश्वास से ओत-प्रोत विराट कोहली ने, ज़ाहिर है, ज़्यादा बेहतर बल्लेबाजी की और बीस ओवर पूरे होने तक क्रीज़ पर डटे रहे.

कोहली ने सिर्फ़ 47 गेंदों पर 75 रन बनाए और एक बार फिर इशारा किया कि क्यों उन्हें हाल ही मेंआईसीसी पुरस्कार से नवाज़ा गया है.

संबंधित समाचार