भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने दिखाया दम

 बुधवार, 31 अक्तूबर, 2012 को 16:37 IST तक के समाचार
पूनम राउत

पूनम राउत ने सर्वाधिक 25 रन बनाए

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने पहला टी20 एशिया कप जीत लिया है. कम स्कोर वाले फ़ाइनल मुकाबले में भारत ने अपने चिर परिचित प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 18 रनों से हराया.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी का फ़ैसला भारतीय टीम के लिए बेहद बुरा साबित हुआ, पूरी टीम महज 81 रनों पर सिमट गई.

लेकिन भारतीय गेंदबाज़ों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तानी बल्लेबाज़ों को 19.1 ओवरों में 63 रनों पर समेट दिया.

फ़ाइनल मैच में हिस्सा नहीं ले पाईं टीम की कप्तान मिताली राज ने कहा, “ टीम को जीत हासिल करते देख काफी ख़ुश हूं, निराशा इस बात की है मैं अपने टखने की चोट के चलते इस मैच में हिस्सा नहीं ले पाई. एशिया कप जीतना बड़ी कामयाबी है. टीम एक परिवार की तरह है और इस जीत में हर किसी का योगदान है.”

पाकिस्तान से जीते

मिताली राज, कप्तान, भारतीय महिला क्रिकेट टीम

"“ टीम को जीत हासिल करते देख काफी ख़ुश हूं, निराशा इस बात की है मैं अपने टखने की चोट के चलते इस मैच में हिस्सा नहीं ले पाई. एशिया कप जीतना बड़ी कामयाबी है. टीम एक परिवार की तरह है और इस जीत में हर किसी का योगदान है.”"

पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारतीय बल्लेबाज़ों की शुरुआत बेहद ख़राब रही। सलामी जोड़ी सस्ते में पवेलियन लौट गईं.

इसके बाद पूनम राउत (25) ने कार्यवाहक कप्तान हरमनप्रीत कौर (20) के साथ भारतीय पारी को संभालने की कोशिश की.

दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 32 रनों की साझेदारी की. पूनम के आउट होने के बाद हरमनप्रीत ने रीमा मल्होत्रा (18) के साथ पारी को आगे बढ़ाया. लेकिन पाकिस्तान की तेज गेंदबाज़ बिस्माह मारूफ़ और स्पिन गेंदबाज़ सना मीर के सामने दूसरे बल्लेबाज़ टिक नहीं पाए. पूरी टीम 81 रन पर सिमट गई.

पाकिस्तान की शुरुआत भी बेहद ख़राब रही. बिस्माह मारूफ़ और कप्तान सना मीर ने गेंदबाज़ी के बाद बल्लेबाज़ी में टीम को संभालने की कोशिश की. मारूफ़ ने 18 और सना मीर ने 11 रन बनाए.

लेकिन पाकिस्तान के बाकी बल्लेबाज़ों ने घुटने टेक दिए. 8 बल्लेबाज़ दहाई अंक में नहीं पहुंच पाए. भारत की ओर से अर्चना दास और नागार्जन निरंजना ने 2-2 विकेट लिए.

पूनम राउत को वुमैन आफ़ द मैच चुना गया. जबकि पाकिस्तान की बिस्माह मारुफ़ को वुमैन आफ़ द सिरीज़ चुना गया.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.