सचिन की मुस्कान लौटी मगर टीम संकट में

 बुधवार, 5 दिसंबर, 2012 को 17:02 IST तक के समाचार
सचिन तेंदुलकर

बड़ा स्कोर नहीं कर पाने की वजह से तेंदुलकर की इससे पहले काफ़ी आलोचना हो रही थी

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के अच्छे प्रदर्शन के बावजूद इंग्लैंड के विरुद्ध कोलकाता टेस्ट में भारत लड़खड़ाता नज़र आ रहा है.

टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत ने पहले दिन का खेल समाप्त होने तक सात विकेट के नुक़सान पर क्लिक करें 273 रन बनाए हैं.

इसमें प्रमुख योगदान क्लिक करें सचिन तेंदुलकर के 76 और सलामी बल्लेबाज़ गौतम गंभीर के 60 रनों का रहा.

अन्य जाने-माने बल्लेबाज़ों ने शुरुआत तो अच्छी की और जब लगा कि वे जमकर पारी आगे बढ़ाएँगे वे आउट हो गए.

भारत को पहला झटका वीरेंदर सहवाग के रूप में लगा था. उन्होंने 26 गेंदों में 23 रन बनाए थे और लगा था कि वे कुछ टिककर विस्फोटक पारी खेल सकते हैं तो उसी समय तीसरा रन चुराने के चक्कर में वह रन आउट हो गए.

इसके बाद पिछले दो मैचों में अच्छा प्रदर्श करने वाले चेतेश्वर पुजारा आए मगर वह भी ज़्यादा देर नहीं रुके और मॉन्टी पनेसर की एक गेंद को नहीं समझ पाने के चलते बोल्ड हो गए. पुजारा ने 16 रन बनाए थे.

एंडरसन का अच्छा प्रदर्शन

फिर तीसरे विकेट के लिए तेंदुलकर और गंभीर के बीच 29 रनों की साझेदारी हुई मगर तब गंभीर पनेसर की गेंद पर ट्रॉट के हाथों लपके गए.

स्कोर

गंभीर- 60

सहवाग- 23

पुजारा- 16

तेंदुलकर- 76

कोहली- 6

युवराज- 32

धोनी- 22 (नॉट आउट)

अश्विन- 21

ज़हीर- 0 (नॉट आउट)

पिछली कुछ पारियों से लड़खड़ा रहे विराट कोहली एक बार फिर नहीं चले और सिर्फ़ छह रन बनाकर जेम्स एंडरसन की गेंद पर आउट हो गए.

एंडरसन इंग्लैंड की ओर से विकेट लेने वाले प्रमुख बल्लेबाज़ रहे. उन्होंने तीन विकेट लिए. अन्य दो विकेट तेंदुलकर और आर अश्विन के रहे.

युवराज सिंह ने चार चौकों और एक छक्के की मदद से 32 रन बनाए थे और विश्वास से भरे जब वह आगे बढ़ रहे थे तब ग्रैम स्वॉन की गेंद पर एलेस्टर कुक ने उन्हें लपका.

तेंदुलकर अपनी 155 गेंदों की पारी में लय में आते दिख रहे थे और 76 रनों के कुल स्कोर में उन्होंने 13 चौके लगाए मगर वह 101वाँ शतक नहीं लगा सके. एंडरसन की एक आउट स्विंग के पीछे गए तेंदुलकर को विकेट के पीछे मैट प्रायर ने बेहतरीन ढंग से अपनी दाहिनी ओर छलांग लगाकर लपका.

अश्विन 21 रन बनाकर एंडरसन की गेंद पर बोल्ड हुए.

क्रीज़ पर भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ ज़हीर ख़ान हैं. ऐसे में भारत के सामने एक बड़ा स्कोर खड़ा करने की जो चुनौती है उसमें अंतिम मज़बूत कड़ी अब सिर्फ़ कप्तान धोनी रह गए हैं.

भारत ने अहमदाबाद टेस्ट में जीत हासिल की थी जबकि क्लिक करें मुंबई टेस्ट जीतकर इंग्लैंड ने सिरीज़ 1-1 से बराबर कर ली.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.