विरोध के बाद मियाँदाद का भारत दौरा रद्द

 शुक्रवार, 4 जनवरी, 2013 को 17:10 IST तक के समाचार

मियांदाद के बेटे की शादी दाउद इब्राहिम की बेटी से हुई है.

पाकिस्तान के क्रिकेटर और पूर्व कप्तान जावेद मियाँदाद ने भारत का दौरा रद्द कर दिया है.

पाकिस्तान से मिल रही खबरों के अनुसार मियाँदाद दिल्ली में होने वाले मैच को देखने के लिए अब नहीं आएंगे.

मियाँदाद भारत-पाकिस्तान वनडे मैच देखने के लिए भारत आने वाले थे और इसके लिए उन्हें भारत का वीज़ा भी मिल गया था लेकिन भारत में कई संगठन मियांदाद के भारत आने का विरोध कर रहे थे.

मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना ने मियाँदाद को वीज़ा दिए जाने पर सरकार की आलोचना की थी.

मियाँदाद के बेटे की शादी दाऊद इब्राहिम की बेटी से हुई है और इसी रिश्ते को लेकर उनका भारत में विरोध हो रहा था.

दाऊद से रिश्ता

बीजेपी के प्रवक्ता मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा था, "ये देश क्रिकेट से प्यार करता है लेकिन आतंकवादियों से नहीं. दाऊद इब्राहिम ने भारत में कई चरमपंथी हमलों को अंजाम दिया है. इसलिए भारत को दाऊद के किसी भी रिश्तेदार को देश के अंदर आने नहीं देना चाहिए."

मियाँदाद के बेटे जुनैद का निकाह दाऊद की बेटी महरूख़ से हुआ है.

इससे पहले भारत के विदेश मंत्री सलमान ख़ुर्शीद ने पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर जावेद मियाँदाद को वीज़ा दिए जाने के फ़ैसले का बचाव करते हुए कहा था कि इसमें पूरी प्रक्रिया का पालन किया गया है.

ख़ुर्शीद ने बंगलौर में पत्रकारों से बातचीत में कहा, "ये गृह मंत्रालय और सरकार का फ़ैसला है. किन परिस्थितियों में इजाज़त दी गई ये सरकार का अंदरूनी मामला है."

उधर इस मसले पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह ने कहा है, "वह एक जाने-माने क्रिकेटर हैं. उनके वीज़ा एप्लिकेशन के सभी काग़ज़ात सही थे और इसीलिए सरकार ने उन्हें वीज़ा देने का फ़ैसला किया."

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.