हॉकी लीग में नहीं खिलाया पाकिस्तानी खिलाड़ियों को

 मंगलवार, 15 जनवरी, 2013 को 10:35 IST तक के समाचार
पंजाब वॉरियर्स, हॉकी इंडिया लीग

लीग के पहले मुकाबले में पंजाब वारियर्स 2-1 से दिल्ली वेवराइडर्स से हार गया.

भारत में आईपीएल की तर्ज पर शुरु हुई हॉकी इंडिया लीग में पाकिस्तान के खिलाड़ी शामिल तो हुए लेकिन दिल्ली में सोमवार शाम हुए पहले ही मैच में मैदान में नहीं उतर पाए.

'दिल्ली वेव राइडर्स' और 'पंजाब वॉरियर्स' के बीच खेले गए इस मुकाबले के दौरान हिंदू युवक सभा के दो समर्थकों ने पाकिस्तान विरोधी नारे लगाए और स्टेडियम में घुसने की कोशिश की.

इससे एक दिन पहले मुंबई में शिव सेना के कार्यकर्ताओं ने भी पाकिस्तान के खिलाड़ियों का विरोध किया था.

दिल्ली की टीम में पाकिस्तान के दो खिलाड़ी (मोहम्मद रिज़वान सीनियर और मोहम्मद रिज़वान जूनियर) और पंजाब वारियर्स टीम में एक खिलाड़ी (सैय्यद कासिफ शाह) शामिल हैं.

ये सभी इस मुकाबले के लिए मैदान पर नहीं उतर पाए.

दिल्ली वेव राइडर्स के कोच अजय कुमार बंसल से जब इसकी वजह पूछी गई तो उन्होंने कहा, ''पाकिस्तान के खिलाड़ी केवल एक दिन पहले ही टीम से जुड़े हैं, इस वजह से उन्हें इतने बड़े मैच में मौका नहीं दिया जा सकता.''

बंसल का ये भी कहना है कि पाकिस्तान के खिलाड़ी दूर से आने की वजह से थके हुए भी हैं. वे ये भी कहते हैं कि टीम के पास अन्य विदेशी खिलाड़ियों के विकल्प मौजूद हैं.

विवाद

"जो भी सीमा पर हुआ, उसे कोई भी समझदार आदमी नहीं करेगा, लेकिन इसमें खिलाड़ियों का कोई दोष नहीं है."

अजित पाल सिंह, भारतीय हॉकी टीम के पू्र्व कप्तान

भारत-पाकिस्तान के बीच सीमा पर गोलीबारी की हालिया घटना के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है. लेकिन भारतीय हॉकी जगत के कुछ पूर्व खिलाड़ियों का मानना है कि पाकिस्तान के खिलाड़ियों को हॉकी इंडिया लीग में खेलने देना चाहिए.

अजित पाल सिंह भारतीय हॉकी टीम के पू्र्व कप्तान हैं. वे कहते हैं, ''जो भी सीमा पर हुआ, उसे कोई भी समझदार आदमी नहीं करेगा, लेकिन इसमें खिलाड़ियों का कोई दोष नहीं है. खिलाड़ी का काम खेलना है और सीमा पर जो हुआ, उसे सुलझाना सरकारों का काम है.''

जानेमाने क्रिकेटर और मशहूर कमेंटेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने भी कहा है कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों को इस टूर्नामेंट में खेलने से नहीं रोकना चाहिए.

लेकिन भारतीय हॉकी संघ के पूर्व अध्यक्ष केपीएस गिल का कहना है कि इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान के खिलाड़ियों को खेलने का मौका नहीं देना चाहिए.

उल्लेखनीय है कि भारतीय हॉकी संघ की मान्यता अंतरराष्ट्रीय हॉकी संघ ने समाप्त कर दी है और वह भारत में सिर्फ हॉकी इंडिया को मान्यता देता है.

हॉकी इंडिया लीग का आयोजन भी अंतरराष्ट्रीय हॉकी संघ से मान्यता प्राप्त है.

सोमवार को दिल्ली में खेले गई लीग के पहले मुकाबले में दिल्ली वेवराइडर्स ने पंजाब वारियर्स को दो के मुकाबले एक गोल से हराया था.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.