वेस्टइंडीज़ की महिला और पुरुष टीम की बल्ले-बल्ले

वेस्टइंडीज़
Image caption वेस्टइंडीज़ की पुरुष टीम ने टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को हराया

क्रिकेट की दुनिया में बुधवार का दिन वेस्टइंडीज़ की पुरुष और महिला दोनों टीमों के नाम रहा. ये इत्तेफ़ाक ही था कि दोनों ही टीमों ने ऑस्ट्रेलिया की शक्तिशाली टीमों को मात दी.

पहले वेस्टइंडीज़ की महिला टीम ने ऑस्ट्रेलिया की महिला टीम को आठ रनों से हराकर महिला विश्व कप क्रिकेट के फ़ाइनल में जगह बनाई, तो पुरुषों की टीम ने टी-20 के एक मैच में ऑस्ट्रेलिया को 27 रनों से हरा दिया.

पहले बात महिला विश्व कप की. मुंबई में हुए ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ विश्व कप के मैच में वेस्टइंडीज़ की टीम सिर्फ़ 164 रन पर आउट हो गई थी, लेकिन उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की शक्तिशाली टीम को सिर्फ़ 156 रनों पर ही समेट दिया.

वेस्टइंडीज़ की ऑफ़ स्पिनर शैनेल डेली ने 22 रन देकर तीन विकेट चटकाए. ऑस्ट्रेलिया की ओर से एलेक्स ब्लैकविल ने सर्वाधिक 45 रन बनाए.

दूसरी ओर वेस्टइंडीज़ की 164 रनों की पारी में डिएंड्र डॉटिन ने 67 गेंदों पर 60 रन बनाए. इस विश्व कप में ये ऑस्ट्रेलिया की पहली हार थी.

फिर हारा ऑस्ट्रेलिया

Image caption वेस्टइंडीज़ की महिला क्रिकेट टीम विश्व कप के फ़ाइनल में पहुँची

दूसरी ओर पुरुषों की टीम टी-20 मैच में वेस्टइंडीज़ ने मेज़बान ऑस्ट्रेलिया को 27 रनों से मात दी. ब्रिसबेन में हुए इस मैच में वेस्टइंडीज़ की जीत के हीरो रहे जॉनसन चार्ल्स. चार्ल्स ने 57 रनों की पारी खेली.

डेरेन ब्रैवो ने 32 और केरॉन पोलार्ड ने 26 रन बनाए. वेस्टइंडीज़ ने 20 ओवरों में छह विकेट पर 191 रन बनाए.

जवाब में ऑस्ट्रेलिया की टीम 20 ओवर में आठ विकेट पर 164 रन ही बना सकी. ऑस्ट्रेलिया की ओर से एडम वोग्स ने सर्वाधिक 51 रन बनाए.

ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर सभी पाँच एक दिवसीय मैच हार चुकी टी-20 विश्व कप चैम्पियन वेस्टइंडीज़ की टीम के लिए ये जीत काफ़ी उत्साहवर्धक मानी जा रही है.

संबंधित समाचार