ऑस्ट्रेलियाई ने पहली पारी में 380 रन बनाए

  • 23 फरवरी 2013
क्लार्क ने नाबाद शतक लगाया

चेन्नई में ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेले जा रहे टेस्ट मैच के दूसरे दिन लंच से कुछ देर क़बल ऑस्ट्रेलियाई टीम पहली पारी में 380 रन बनाकर ऑल आउट हो गई है.

ऑस्ट्रेलिया की ओर से कप्पान माइकल क्लार्क ने सर्वाधिक 130 रन बनाए. भारत की ओर से आश्विन ने शानदार गेंदबाज़ी करते हुए 103 रन देकर सात विकेट लिए. रवींद्र जडेजा को दो और हरभजन सिंह को एक विकेट मिली.

इससे पहले शनिवार की सुबह ऑस्ट्रेलिया ने सात विकेट पर 316 रन से आगे खेलना शुरू किया. उस समय कप्तान क्लार्क 103 रन बनाकर टिके हुए थे.

क्लार्क 130 के निजी स्कोर पर रवींद्र जडेजा की गेंद पर भुवनेश्वर कुमार के हाथों कैच आउट हुए. उसके बाद हरभजन सिंह ने सिडल को सहवाग के हाथों कैच आउट कराया. सिडल केवल 19 रन बना सके.

ऑस्ट्रेलिया का अंतिम विकेट ल्योन के रूप में गिरा जब वे तीन रन बनाकर आश्विन की गेंद पर कोहली के हाथों लपक लिए गए.

मैच का स्कोरकार्ड देखिए

शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया था. ऑस्ट्रेलिया की पारी की शुरुआत एड कोवन और डेविड वार्नर ने की.

इस सलामी जोड़ी ने पैर जमाने शुरु ही किए थे कि भारत की ओर से अश्विन ने कोवन को अपना शिकार बना लिया.

लेकिन अश्विन यहीं नहीं रुके, वे घातक फॉर्म में थे. उन्होंने एक के बाद एक कई ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों को पवेलियन लौटा दिया. इसमें फिलीप ह्यूज़, शेन वाटसन और डेविड वार्नर शामिल हैं.

आश्विन ने शानदार गेंदबाज़ी करते हुए सात विकेट लिए.

लेकिन इस सबके बीच कप्तान क्लार्क मैदान पर डटे रहे और अश्विन का मुक़ाबला किया. हालांकि बीच में उन्हें लेकर विवाद भी हुआ.

चायकाल से ठीक पहले अश्विन ने ज़बरदस्त अपील की थी लेकिन क्लार्क को नॉट आउट क़रार दिया गया.

अश्विन का जलवा

इस बीच अश्विन का आक्रामक अंदाज़ जारी रहा और क्लार्क ने भी उसी आक्रामक अंदाज़ में जवाब दिया.

बाकी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ तो धराशाई होते गए लेकिन अपना पहला टेस्ट खेल रहे हेनरिकेज़ ने कप्तान का साथ दिया. वे आख़िरकर 68 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर आउट हुए. हेनरिकेज़ के रूप में ऑस्ट्रेलिया का सातवां विकेट गिरा.

तब तक वे क्लार्क के साथ मिलकर स्कोर को 304 तक ले जा चुके थे.

क्लार्क अंत तक आउट नहीं हुए. दिन का खेल ख़त्म होने पर वे 103 रन बनाकर खेल रहे थे. ऑस्ट्रेलिया का स्कोर रहा सात विकेट पर 316 रन.

भारत की ओर से अश्विन को छोड़ बाकी गेंदबाज़ प्रभावशाली नहीं रहे. टीम में वापसी करने वाले और अपना 100वां टेस्ट खेल रहे हरभजन को पहले दिन कोई विकेट नहीं मिला जबकि अश्विन ने छह विकेट तो जडेजा ने एक विकेट लिया.

संबंधित समाचार