भारत की ऑस्ट्रेलिया पर शानदार जीत

  • 26 फरवरी 2013
Image caption अश्विन ने दूसरी पारी में भी पांच विकेट लिए. तस्वीर बीसीसीआई

भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला टेस्ट मैच आठ विकेट से जीत लिया है.

मैच के आखिरी दिन भारत को जीत के लिए 50 रन चाहिए थे जो भारत ने बड़ी आसानी से बना लिए. इस जीत के साथ ही भारत ने चार मैचों की इस सिरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है.

मंगलवार को पाँचवे दिन का खेल जब शुरु हुआ तो ऑस्ट्रेलिया ने चौथे दिन के नौ विकेट पर 232 रन के स्कोर को आगे बढ़ाया.

लेकिन उसका आखिरी विकेट गिरने में ज़्यादा समय नहीं लगा.

नेथन लयॉन का विकेट जडेजा ने लिया और इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 241 पर सिमट गई. हेनरिकेज़ 81 रन बनाकर नाबाद रहे.

इस तरह भारतीय बल्लेबाज़ों के सामने जीत के लिए सिर्फ 50 रनों का लक्ष्य था और उसके पास पूरी बैटिंग लाइनअप थी.

धोनी का धमाल

भारत की दूसरी पारी में हालांकि मुरली विजय और सहवाग आने के कुछ देर बाद ही आउट हो गए लेकिन भारत के लिए चिंता की बात नहीं थी. 50 रनों के मामूली से लक्ष्य को पुजारा और सचिन ने जल्द ही हासिल कर लिया. चेतेश्वर पुजारा आठ और सचिन तेंदुलकर 14 रनों पर नाबाद रहे.

सचिन ने पारी में दो छक्के भी लगाए. भारत के लिए अश्विन ने इस मैच में कुल 12 विकेट लिए.इस तरह भारत ने चेन्नई टेस्ट पाँचवे दिन आठ विकेट जीत लिया.

इससे पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया ने 380 रन बनाए थे जिसमें कप्तान माइकल क्लार्क के 130 रन शामिल थे. भारत की ओर से पहली पारी में अश्विन ने शानदार गेंदबाज़ी करते हुए सात विकेट चटकाए थे.

ऑस्ट्रेलिया के 380 रनों के जवाब में भारत ने पहली पारी में 572 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था. इसमें सचिन ने 81 रन और विराट कोहली के 107 रनों का योगदान दिया था. लेकिन भारतीय पारी का आकर्षण रहा कप्तान धोनी का दोहरा शतक. वे 224 रन बनाकर आउट हुए थे.

ऑस्ट्रेलिया अपनी दूसरी पारी में पारी की हार से तो बच गया था लेकिन इतने रन नहीं बना पाया था कि मैच में पकड़ बना सके.

संबंधित समाचार