हैदराबाद टेस्ट: ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी सस्ते में निपटी

Image caption भारतीय गेंदबाज़ों ने ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज़ों के छक्के छुड़ा दिए.

हैदराबाद में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन ऑस्ट्रलिया ने नौ विकेट पर 237 के स्कोर पर अपनी पारी घोषित कर दी है.

भुवनेश्वर कुमार और रविंद्र जडेजा के तीन-तीन विकेटों की मदद से भारत ने लगातार ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों पर दबाव बनाए रखा.

सिर्फ कप्तान माइकल क्लार्क एक बड़ा स्कोर कर सके लेकिन वो भी अपने शतक से नौ रनों से चूक गए.

लेकिन एक विकेट रहते क्लार्क ने ऑस्ट्रेलियाई पारी घोषित कर दी और भारत को शाम में तीन ओवर बल्लेबाज़ी करने के लिए बुलाया. दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने बिना विकेट खोए पांच रन बनाए.

इससे पहले शनिवार सुबह ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया.

मेहमान टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और डेविड वार्नर भुवनेश्वर कुमार की एक गेंद पर बोल्ड आउट हो गए. वार्नर ने 6 रन बनाए थे. इसके तुरंत बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज़ एड कॉवन भी एलबीडबल्यू आउट हो गए. ऑस्ट्रेलिया का स्कोर था 15 रन पर दो विकेट.

अगले बल्लेबाज़ शेन वॉटसन अच्छे फॉर्म में लग रहे थे. दो विकेट जल्दी खोने के बाद इस अनुभवी बल्लेबाज़ से ऑस्ट्रेलियाई टीम को एक बड़ी पारी की उम्मीद थी.

वॉटसन ने कुमार के एक ओवर में दो चौके भी जड़े और जल्दी ही 23 रन अपने खाते में जोड़ लिए. लेकिन उसी ओवर में एक गेंद थोड़ी नीची रही और वॉटसन पगबाधा आउट हो गए. तीसरा विकेट 57 के स्कोर पर गिरा.

पिछले मैच के मैन ऑफ द मैच रवि अश्विन ने फिल ह्यूज़ को धोनी के हाथों कैच करवाया और ऑस्ट्रेलिया ने चौथा विकेट 63 रनों पर खो दिया.

क्लार्क शतक से चूके

इसके बाद क्लार्क ने वेड के साथ अच्छी साझेदारी की और दूसरे सत्र में कोई भी विकेट नहीं गिरा.

चाय के बाद हरभजन सिंह ने मैथ्यू वेड का विकेट लिया और साझेदारी तोड़ी. क्लार्क और वेड ने पांचवें विकेट के लिए 145 रनों की साझेदारी निभाई. वेड 62 रनों पर आउट हुए और तब ऑस्ट्रेलिया का स्कोर था 5 विकेट पर 208 रन.

इसके बाद रविंद्र जडेज़ा ने ऑस्ट्रेलिया को दो झटके दिए. जडेजा ने हेनरिकेस और मैक्सवेल को पवेलियन का रास्ता दिखाया

एक तरफ से विकेट लगातार गिर रहे थे तो दूसरी तरफ से कप्तान क्लार्क क्रीज़ पर डटे हुए थे. क्लार्क ने 9 चौकों और 1 छक्के की मदद से 91 रन बना लिए थे कि जडेजा कि गेंद पर बोल्ड हो गए. ऑस्ट्रेलिया का नौवां विकेट 236 रनों पर गिरा.

हैदराबाद में भारतीय टीम में कोई बदलाव नहीं किया गया.

वहीं ऑस्ट्रेलिया ने ऑलराउंडर मैक्सवेल को स्टार्क की जगह और स्पिनर डोहर्टी को नेथन लॉयन को अंतिम 11 में जगह दी है.

चैन्नई में पहला टेस्ट जीतने के बाद भारत ने चार मैचों की सिरीज़ में 1-0 की बढ़त ली है.

संबंधित समाचार