वॉटसन फिर लौटेंगे ऑस्ट्रेलियाई टीम में

Image caption दिल्ली टेस्ट में कप्तानी कर सकते हैं शेन वॉटसन

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के उपकप्तान शेन वॉटसन और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुखिया पैट हॉवर्ड के बीच हुई सुलह के बाद वॉटसन भारत के ख़िलाफ अंतिम टेस्ट मैच खेलने के लिए लौट रहे हैं.

बहुत संभव है कि नई दिल्ली के फिरोजशाह कोटला, मैदान में होने वाले अंतिम मैच में शेन वॉटसन ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी करेंगे. पीठ में तकलीफ़ के चलते कप्तान माइकल क्लार्क का इस टेस्ट में खेलना तय नहीं है.

शेन वॉटसन ने मीडिया को बताया है कि हॉवर्ड के साथ हुई बातचीत साकारात्मक रही और दोनों विश्व क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया की बादशाहत को वापस लाने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ समझौते के बाद भी मोहाली टेस्ट से निलंबित किए गए वॉटसन मानते हैं कि उनके साथ ज्यादती हुई है. उन्होंने कहा है, “मेरे लिए काफी मुश्किल समय था. एक ही समय में मेरे साथ कई चीजें हो रही थीं, लेकिन हॉवर्ड से बातचीत करने के बाद कोई समस्या नहीं रही.”

अब कोई समस्या नहीं

वॉटसन ने टीम के कोच मिकी ऑर्थर से भी बातचीत की. वॉटसन के मुताबिक वे टीम के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देने के इरादे से ही फिरोजशाह कोटला में खेलने उतरेंगे.

पैट हॉवर्ड ने ये साफ किया है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट प्रबंधन को वॉटसन से कोई शिकायत नहीं है.

दूसरी ओर शेन वॉटसन सहित टीम के चार खिलाड़ियों को मोहाली टेस्ट से निलंबित करने वाले कोच मिकी ऑर्थर की काफी आलोचना झेलनी पड़ी है.

ये माना जा रहा है कि मोहाली में अगर ऑस्ट्रेलियाई टीम निलंबित किए गए खिलाड़ियों के साथ उतरती तो टेस्ट बचाया जा सकता था. सिरीज़ में लगातार तीन टेस्ट मैच हारने के बाद चारों तरफ ऑस्ट्रेलियाई टीम की काफी आलोचना हो रही है.

इन आलोचनाओं के चलते टीम के कोच मिकी ऑर्थर को अपना ट्विटर एकाउंट बंद करना पड़ा है.

हालांकि वॉटसन ने टीम के कोच मिकी ऑर्थर और कप्तान माइकल क्लार्क का धन्यवाद जताया और कहा दोनों ने उन्हें भारत से ऑस्ट्रेलिया जाने की इजाजत दी.

वॉटसन ने ये भी साफ किया कि वे ऑस्ट्रेलिया इसलिए लौटे थे क्योंकि उनकी पत्नी गर्भवती थी. वॉटसन की पत्नी ने इसी सप्ताह एक बेबी ब्वॉय को जन्म दिया है.

संबंधित समाचार