अश्विन की फिरकी पर फिसले कंगारू

आर अश्विन
Image caption अश्विन दाहिने हाथ के ऑफ ब्रेक स्पिनर हैं.

भारत ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रहे चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला के अंतिम मैच में फिरोजशाह कोटला के मैदान पर मेहमान टीम ने खेल के पहले दिन आठ विकेट गंवाकर 231 रन बना लिए हैं.

सिडल और पैटिंसन की जोड़ी नौवें विकेट की साझीदारी में 42 रन बनाकर पिच पर टिके हुए हैं.

सलामी बल्लेबाज एड कॉवन एक जीवनदान के बाद 38 के स्कोर पर पैवेलियन वापस लौट गए जबकि उनके साथ खेल की शुरुआत करने उतरे वार्नर अपना खाता भी नहीं खोल पाए.

चाय के वक्त तक मेहमान टीम 7 विकेट पर 153 रन ही बना पाई थी लेकिन निचले क्रम के बल्लेबाजों ने मुश्किल वक्त में खेल संभाल लिया.

पुछल्ले बल्लेबाज सिडल सबसे ज्यादा 47 के स्कोर पर नाबाद बने हुए हैं.

कॉवन का विकेट लेने वाले दाहिने हाथ के ऑफ ब्रेक स्पिनर आर अश्विन ने चार विकेट लेकर मेहमान टीम की कमर ही तोड़ दी.

अश्विन का कहर

अश्विन की फिरकी के कहर का यह आलम था कि उन्होंने 30 ओवर में 40 रन देकर कंगारुओं के चार विकेट झटक लिए.

कॉवन, स्मिथ, वेड और जॉनसन खुद को इस ऑफ ब्रेक स्पिनर के कहर से बचा पाने में नाकाम रहे. स्मिथ ने 46 रन बनाए थे.

मेहमान टीम के कप्तान शेन वॉटसन को मेजबान कप्तान धोनी ने स्टंप आउट कर दिया.

तेज गति के गेंदबाज इशांत शर्मा ने डेविड वार्नर को शून्य और तीसरे नंबर पर खेलने आए फिलिप ह्यूग्स को 45 रनों पर पैवेलियन वापस लौटाया.

हरफनमौला रवींद्र जाडेजा ने मैक्सवेल और मेहमान टीम के कप्तान वॉटसन का विकेट अपने खाते में जोड़ा.

कोटला की पिच पर पुरानी गेंद खतरनाक तरीके से उछाल ले रही थी जबकि नई गेंद कुछ नीची रह रही थी.

खेल की शुरुआत में गेंदबाज़ी का मोर्चा संभाल रहे इशांत और उनके नए साथी भुवनेश कुमार लय में दिख रहे थे.

कोटला की पिच

Image caption कोटला की उछाल भरी पिच पर इशांत ने दो विकेट चटके.

लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि फिरोजशाह कोटला के क्यूरेटर वेंकट सुंदरम की तैयार की हुई पिच मैच के पहले सेशन की जान रही.

मोहाली की दूसरी पारी में फॉर्म में दिख रहे ह्यूग्स ने कोटला के मैदान पर भी आक्रमक रुख अपनाया था. लेकिन कोटला की पिच उनके लिए बहुत मददगार नहीं रही.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक ह्यूग्स ने 59 गेंदों को सामना किया और 10 चौकों की मदद से 45 रन बनाए.

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने भुवनेश्वर और इशांत दोनो की गेंद पर कुछ अच्छे शॉट्स खेले लेकिन पिच के मिज़ाज ने ह्यूग्स को मैदान पर जमने नहीं दिया.

पहले दिन के खेल में कुल 98 ओवर गेंदे फेंकी जा चुकी हैं.

संबंधित समाचार