टाइगर वुड्स फिर बने नंबर वन गोल्फर

टाइगर वुड्स
Image caption टाइगर वुड्स एक बार फिर से गोल्फ के शिखर पर पहुंच गए हैं.

टाइगर वुड्स एक बार फिर दुनिया में गोल्फ़ के नंबर एक खिलाड़ी बन गए हैं.

साल 2010 के बाद से ये पहला मौका है जब वो वर्ल्ड रैंकिंग में पहले पायदान पर पहुंचे हैं. उन्होंने रोरी मैकलरोरी की जगह ली है.

उन्होंने ये स्थान अमरीका के फ्लोरिडा राज्य में आर्नोल्ड पामर इंविटेशनल मैच दो स्ट्रोक से जीतकर हासिल किया.

फ्लोरिडा के बे हिल पर मिली जीत के साथ उन्होंने अब तक 77 पीजीए खिताब अपने नाम कर लिए हैं जबकि 2013 में ये उनका तीसरा खिताब है.

प्रदर्शन से खुश

वुड्स ने अपने प्रदर्शन पर संतोष का इजहार करते हुए कहा कि वो अपने खेलने के तरीके से खुश हैं.

अपने करियर में 14 अहम खिताब जीतने वाले टाइगर वुड्स ने अपनी नंबर एक रैंकिंग उस वक्त गंवा दी थी जब 2009 में उनके विवाहेत्तर रिश्तों का खुलासा हुआ था, जिसकी वजह उन्हें सार्वजनिक तौर पर शर्मिंदगी झेलनी पड़ी. इसकी वजह से उनका तलाक भी हो गया था.

एक समय वो अपनी निजी जिंदगी की समस्याओं से इस कदर घिर गए थे कि उन्हें गोल्फ से छुट्टी लेनी पड़ी. उनके कई प्रायोजकों ने भी उनसे दूरी बना ली थी.

बाइस साल की उम्र में पहली बार दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी बनने वाले वुड्स ने साल 2008 में पिछली बार कोई बड़ा खिताब जीता था.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा ? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें)

संबंधित समाचार