शारापोवा पर भारी सेरेना

Image caption सेरेना ने छठी बार मियामी मास्टर्स का ख़िताब जीता

दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी सेरेना विलियम्स ने मारिया शारापोवा को हराकर रिकॉर्ड छठी बार मियामी मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट का ख़िताब जीत लिया है.

सेरेना ने एक रोमांचक मुक़ाबले में मारिया शारापोवा को 4-6, 6-3, 6-0 से हराया.शारापोवा ने पहले सेट में सेरेना को हरा दिया लेकिन बाद के दो सेटों में वह सेरेना के तूफ़ान को नहीं थाम सकीं.

सेरेना का ये 48वां डब्ल्यूटीए ख़िताब है. मियामी मास्टर्स की इस खिताबी जीत के साथ साथ सेरेना विलियम्स ने अपने रिकॉर्ड को कहीं ज्यादा बेहतर बना लिया है.

छठी बार चैंपियन

15 ग्रैंड स्लैम ख़िताब जीत चुकी सेरेना विलियम्स महज चौथी ऐसी महिला खिलाड़ी हैं जो मियामी में छह बार चैंपियन बनीं हैं. उनसे पहले ये कारनामा क्रिस एवर्ट, स्टेफी ग्राफ़ और मार्टिना नवरातिलोवा ये करिश्मा दिखा चुकी हैं.

लेकिन सेरेना विलियम्स का रिकॉर्ड इन सबमें सबसे बेहतर इसलिए हो गया है कि क्योंकि सेरेना ने इस बार सबसे ज़्यादा उम्र में चैंपियन बनने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया है.

क्रिस एवर्ट ने 31 साल और दो महीने की उम्र में 1986 में मियामी मास्टर्स का ख़िताब जीता था, लेकिन सेरेना विलियम्स ने 31 साल और छह महीने में ख़िताब जीत कर इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया.

सेरेना इससे पहले यहां 2002, 2003, 2004, 2007 और 2008 में चैंपियन रहीं थीं.

शारापोवा पर भारी सेरेना

इस जीत के साथ ही सेरेना ने एक बार फिर मारिया शारापोवा पर अपनी बादशाहत साबित कर दी है. ये लगातार ग्यारहवां मुकाबला है जब सेरेना विलियम्स ने मारिया शारापोवा को हराया है.

वैसे कुल मुकाबलों में अब तक दोनों के बीच 14 मुक़ाबले हुए हैं, जिसमें 12 बार बाजी सेरेना विलियम्स के नाम रही है जबकि दो बार मारिया शारापोवा सेरेना को हराने में कामयाब हुई हैं.

25 साल की मारिया शारापोवा पांचवीं बार मियामी मास्टर्स ओपन के फ़ाइनल में पहुंचने के बाद भी खिताब नहीं जीत सकी हैं. अब तक 28 डब्ल्यूटीए ख़िताब जीत चुकीं शारापोवा अब तक मियामी मास्टर्स का ख़िताब नहीं जीत पाई हैं.

संबंधित समाचार