जब फैन्स ने की खिलाड़ियों की पिटाई....

फुटबॉल
Image caption अर्जेंटीना में फुटबॉल के लिए दीवानगी जुनून के हद तक है.

यह वाकया अर्जेंटीना का है जहां फुटबॉल के लिए लोगों की दीवानगी जुनून की हद तक कही जाती है.

एक क्लब टीम टूर्नामेंट के एक मैच में 15-0 से हार गई और खेल प्रेमियों का गुस्सा इस कदर बढ़ गया कि उन्होंने ड्रेसिंग रूम में घुसकर खिलाड़ियों की धुनाई कर दी.

अर्जेंटीना के फुटबॉल क्लब ‘हुराकन’ को यकीनन इसका अंदाजा तक नहीं रहा होगा.

दरअसल हुआ यूं कि ट्रेनिंग सत्र के बाद क्लब के ड्रेसिंग रूम में कई फैन्स घुस आए और उनके गुस्से का आलम यह था कि कुछ खिलाड़ियों की धुनाई तक कर दी गई.

खबरों के मुताबिक फुटबॉल के इन ‘दीवानों’ ने खिलाड़ियों के सामान तक चुरा लिए.

सिर्फ इतना ही नहीं उपद्रवी खेल प्रेमियों ने ब्यूनस आयर्स में स्टेडियम के बाहर खड़ी कारों को भी नुकसान पहुंचाया.

खिलाड़ियों की पिटाई

सबसे खास बात यह थी कि उपद्रव मचाते वक्त फैन्स ने मास्क पहन रखे थे.

कहा जा रहा है कि फुटबॉल के एक टूर्नामेंट में हुराकन क्लब के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद खेल प्रेमियों ने क्लब के ड्रेसिंग रूम में यह हमला किया.

हुराकन के कोच जोसे मारिया लोप ने घटना का ब्यौरा देते हुए कहा, "ट्रेनिंग सेशन के बाद हम लोग नहा रहे थे. ठीक उसी वक्त नाराज फैन्स ड्रेसिंग रूम में घुस आए और खिलाड़ियों को धमकाया."

उन्होंने बताया, "नाराज फैन्स ने कुछ खिलाड़ियों की पिटाई भी की. जब हमने स्टेडियम छोड़ा तो पाया कि वहां खड़ी आठ कारों को नुकसान पहुंचाया गया है."

क्लब के अध्यक्ष अलेज़ांड्रो नाडुर ने बताया, "फैन्स दो बसों में सवार होकर आए थे और स्टेडियम में प्रवेश कर गए. उन्होंने जो कुछ भी किया उसे सही नहीं ठहराया जा सकता है, भले ही हम 15-0 से यह मैच गोडोय क्रूज़ क्लब से हार गए हों."

संबंधित समाचार