श्रीसंत और अन्य की हिरासत पाँच दिन बढ़ी

Image caption पुलिस का कहना है कि गिरफ़्तार अभियुक्तों से और जानकारी मिल सकती है

आईपीएल में स्पॉट फ़िक्सिंग में गिरफ़्तार तीन क्रिकेटरों और आठ सट्टेबाज़ों की ज़मानत अर्ज़ी कोर्ट ने ख़ारिज कर दी है. कोर्ट ने सभी की पुलिस हिरासत की अवधि पांच दिन के लिए बढ़ा दी है.

पुलिस का कहना था कि मामले की जांच के लिए उसे अभी इन लोगों से और पूछताछ करनी है.

अदालत ने श्रीसंत, अंकित चव्हाण और अजीत चंडीला और आठ सट्टेबाज़ों की पुलिस हिरासत की अवधि पांच दिन और बढ़ा दी.

उधर अपनी वकील रिबेका जॉन के माध्यम से भेजे एक संदेश में श्रीसंत ने कहा कि वो निर्दोष है और उन्हें देश की न्याय व्यवस्था पर पूरा यक़ीन है. श्रीसंत ने कहा कि ये उनके जीवन का एक कठिन दौर है और विश्वास जताया कि वो जल्द निर्दोष साबित होंगे.

गिरफ़्तारियां

इससे पहले आज मुंबई क्राइम ब्रांच ने पहलवान दारा सिंह के बेटे विंदू दारा सिंह को सट्टेबाज़ों से संबंध के आरोप में गिरफ़्तार किया.

विंदू दारा सिंह के अलावा अल्पेश पटेल और विंदू दारा सिंह के अलावा पुलिस ने प्रेम तनेजा को भी इसी मामले में गिरफ़्तार किया है.

इन सभी को अदालत ने 24 मई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

आईपीएल 6 में स्पॉट फ़िक्सिंग के मामले में कुछ दिन पहले दिल्ली पुलिस ने क्रिकेटरों और सट्टेबाज़ों की गिरफ़्तारी की थी.

तब दिल्ली पुलिस के आयुक्त नीरज कुमार ने उस कहा था कि इस मामले में और गिरफ़्तारियाँ हो सकती हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार