चैंपियंस ट्रॉफ़ी: दक्षिण अफ़्रीका की स्थिति ख़राब

  • 6 जून 2013

चैंपियंस ट्रॉफ़ी के पहले मैच में जीत के लिए 332 रनों का पीछा करते हुए दक्षिण अफ़्रीक़ा की पारी लड़खड़ा गई है. उसके छह विकेट 188 रन पर आउट हो चुके थे.

दक्षिण अफ़्रीका की ख़राब शुरूआत हुई. दोनों सलामी बल्लेबाज़ हाशिम आमला और कॉलिन इंग्रम जल्द ही पैवेलियन लौट गए.

तीसरे ही ओवर में इंग्रम छह रन के निजी स्कोर पर भुवनेशर कुमार की गेंद पर रैना के हाथों लपक लिए गए. उस वक़्त दक्षिण अफ़्रीक़ा का स्कोर केवल 13 रन था. थोड़ी देर बाद आमला भी 22 के निजी स्कोर पर उमेश यादव की गेंद पर धोनी के हाथों कैच आउट हुए.

मैच का स्कोर देखने के लिए क्लिक करें

हालांकि रॉबिन पीटरसन और एबी डीविलियर्स ने मिलकर पारी को संभाला और तीसरे विकेट के लिए 124 रन जोड़े. पीटरसन ने 68 और डीविलियर्स ने 70 रन बनाए.

लेकिन फिर दक्षिण अफ्रीका का मिडिल ऑर्डर चरमरा गया. मात्र छह रन में उसके तीन विकेट आउट हो गए.

पीटरसन को रवींद्र जडेजा की गेंद पर धोनी ने रन आउट किया जिस वक्त कुल स्कोर 155 रन था.फिर जीपी डुमिनी 14 रन के निजी स्कोर पर जडेजा की गेंद पर एलबीडबल्यू हो गए. उस वक्त कुल स्कोर 182 था.

और फिर 184 के कुल स्कोर पर उमेश यादव की गेंद पर जडेजा ने एबी डिविलियर्स का कैच लपक उन्हें पवैलियन लौटा दिया. अगले ही ओवर में इशांत शर्मा की गेंद पर डेविड मिलर रन आउट हो गए.

भारतीय पारी

इससे पहले दक्षिण अफ़्रीका ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाज़ी की दावत दी.

पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत ने निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट के नुक़सान पर 331 रन बनाए.

मैच जीतने के लिए दक्षिण अफ़्रीक़ा के सामने 332 रनों की भारी चुनौती है. जो कि इस मैदान पर एक मुश्किल लक्ष्य है क्योंकि इस मैदान पर अब तक बाद में बल्लेबाज़ी कर जीतने वाली किसी टीम ने सबसे अधिक 258 रन बनाए हैं जब 2001 में ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को सात विकेट से हराया था.

इससे पहले दक्षिण अफ़्रीक़ा ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाज़ी करने की दावत दी. भारत की ओर से शिखर धवन और रोहित शर्मा ने पारी की शुरूआत की.

दोनों ने पहले विकेट के लिए 127 रनों की साझेदारी की. उनकी शानदार साझेदारी तब टूटी जब रोहित शर्मा 65 रन के निजी स्कोर पर मैक्लारेन की गेंद पर पीटरसन के ज़रिए लपक लिए गए.

उसके बाद विराट कोहली मैदान में उतरे. लेकिन वो कुछ ख़ास नही कर सके और 31 रन बनाकर आउट हो गए.

धवन का शतक

शिखर धवन डटकर बल्लेबाज़ी करते रहे और केवल 81 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया. लेकिन धवन 114 के निजी स्कोर पर जेपी डुमिनि की गेंद पर कैच आउट हो गए.

उसके बाद कार्तिक 14, रैना नौ और धोनी 27 रन बनाकर आउट हो गए.

लेकिन आख़िर में रवींद्र जडेजा ने कुछ अच्छे शॉट्स लगाए और नाबाद 47 रन बनाए. उनकी ही बदौलत भारत ने आसानी से तीन सौ का आंकड़ा पार किया और आख़िर में दक्षिण अफ़्रीक़ा के सामने 332 रनों का विशाल लक्ष्य रखा.

दक्षिण अफ़्रीक़ा की ओर से सबसे सफल गेंदबाज़ रहे मैक्लारेन जिन्होंने तीन विकेट लिए जबकि सोत्सोबे ने दो विकेट लिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार