सचिन के बिना बड़े टूर्नामेंट में उतरेगी टीम इंडिया

स्पॉट फ़िक्सिंग और भ्रष्टाचार मामलों के साए में भारतीय क्रिकेट टीम चैम्पियंस ट्रॉफ़ी में आज अपना अभियान शुरू कर रही है.

आईसीसी के मुताबिक़ ये चैम्पियंस ट्रॉफ़ी की आख़िरी प्रतियोगिता है.

अभ्यास मैचों में धमाकेदार प्रदर्शन के बाद टीम इंडिया दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ अपने अभियान की शुरुआत करेगी. भारत के साथ ग्रुप बी में पाकिस्तान, दक्षिण अफ़्रीका और वेस्टइंडीज़ की टीम हैं.

इस ग्रुप को ग्रुप ऑफ़ डेथ भी कहा जा रहा है. नॉक आउट मुक़ाबले में एक भी हार टीम को टूर्नामेंट की होड़ से बाहर कर सकती है. लिहाजा टीम इंडिया और दक्षिण अफ़्रीका दोनों का इरादा इस मुक़ाबले में जीत हासिल करने का होगा.

भारत मज़बूत दावेदार

भारत वनडे क्रिकेट में दुनिया की नंबर वन टीम है, ऐसे में चैंपियंस ट्रॉफ़ी पर उसका दावा मज़बूत माना जा रहा है.

लेकिन दूसरी तरफ एक हकीकत ये भी है कि टीम पहली बारवीरेंदर सहवाग, युवराज सिंह, सचिन तेंदुलकर और ज़हीर ख़ान जैसे सीनियर खिलाड़ियों की गैर मौजूदगी में किसी विश्वस्तरीय टूर्नामेंट में हिस्सा ले रही है.

बावजूद इसके भारत ने अभ्यास मैचों में जिस तरह से श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया को हराया है, उससे टीम इंडिया के बेहतर प्रदर्शन का भरोसा मज़बूत हुआ है.

भारत ने श्रीलंका के खिलाफ 334 रनों के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया वहीं ऑस्ट्रेलिया को महज 65 रनों परसमेट दिया.

टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को युवा खिलाड़ियों से काफी उम्मीदें हैं. उन्होंने मुक़ाबले से पहले कहा है, “टीम का हर खिलाड़ी पूरी तरह फ़िट है. सभी खिलाड़ियों ने आईपीएल से पहले और आईपीएल के दौरान अच्छा प्रदर्शन किया है.”

अभ्यास मैचों में जोरदार प्रदर्शन

महेंद्र सिंह धोनी और दिनेश कार्तिक ने अभ्यास मैचों में का प्रदर्शन शानदार रहा. दोनों अभ्यास मैच में शतक जमाने वाले दिनेश कार्तिक का मैच में खेलना तय है, माना जा रहा है कि उन्हें मिडिल ऑर्डर में खेलने का मौका मिलेगा.

दिनेश कार्तिक ने मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ शतक बनाने के बाद कहा था कि वे टीम के लिए किसी भी नंबर पर बल्लेबाज़ी करने को तैयार हैं.

माना जा रहा है कि टीम इंडिया की ओर से मुरली विजय और शिखर धवन पारी की शुरुआत करेंगे. इन दोनों के अब तक टेस्ट मुकाबलों में बेहतर प्रदर्शन को देखते हुए टीम के कप्तान धोनी इन दोनों को ही आजमाना चाहेंगे.

अभ्यास मैचों में नाकाम रहे रोहित शर्मा को बाहर बैठना पड़ सकता है.

माना जा रहा है कि टीम इंडिया पांच गेंदबाज़ों के साथ मैदान में उतरेगी. ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ अभ्यास मैच में शानदार गेंदबाज़ी करने वाले उमेश यादव और ईशांत शर्मा के अलावा भुवनेश्वर कुमार तेज गेंदबाज़ी का जिम्मा संभालेंगे.

जबकि स्पिन गेंदबाजी में दारोमदार आर अश्विन और रवींद्र जडेजा पर होगा.

दक्षिण अफ़्रीका की मुश्किल

दूसरी ओर दक्षिण अफ़्रीकी टीम का पलड़ा थोड़ा कमजोर दिख रहा है. दुनिया के नंबर एक गेंदबाज़ डेल स्टेन फ़िट नहीं हैं.

इतन ही नहीं ग्रैम स्मिथ और ज़ाक कैलिस भी अनफ़िट होने के चलते इस मुक़ाबले में नहीं खेलेंगे. लेकिन हाशिम अमला, एबी डी विलियर्स, डू प्लेसी और जेपी ड्यूमिनी जैसे क्रिकेटर भारत के लिए मुश्किलें बढ़ा सकते हैं.

वैसे चैंपियंस ट्रॉफ़ी में टीम इंडिया और दक्षिण अफ़्रीकी टीम के बीच अब तक दो बार भिड़ंत हुई है और दोनों बार बाजी टीम इंडिया के नाम लगी है.

18 दिनों तक चलने वाली इस टूर्नामेंट में दुनिया की आठ सर्वश्रेष्ठ टीमें हिस्सा ले रही हैं और हर टीम का इरादा खिताब जीतने का ही है. ग्रुप ए में इंग्लैंड के अलावा ऑस्ट्रेलिया, न्यूज़ीलैंड और श्रीलंका की टीम शामिल है.

पहले मुक़ाबले की संभावित टीमें इस प्रकार हैं-

भारत- महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय/ रोहित शर्मा, विराट कोहली, दिनेश कार्तिक, सुरेश रैना, रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, ईशांत शर्मा और उमेश यादव.

दक्षिण अफ़्रीका- एबी डिविलियर्स (कप्तान), हाशिम अमला, एल्विरो पीटरसन, कोलिन इनग्राम, डू प्लेसि, जेपी ड्यूमिनी, रेयान मैकलारेन, रॉबिन पीटरसन, रॉरी क्लेनवेल्डेट, मॉर्नी मोर्कल, लोनवाबो सोतसोबे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार