ओलंपिक धावक गे और पावेल डोप टेस्ट में फेल

दुनिया के सबसे तेज़ धावकों में शामिल अमरीका के टायसन गे और जमैका के असाफ़ा पावेल डोप टेस्ट में प्रतिबंधित पदार्थ के लिए पॉज़िटिव पाए गए हैं.

टायसन गे 100 मीटर दौड़ में दुनिया के दूसरे सबसे तेज़ धावक हैं. उन्होंने कहा है कि वे अगले महीने मॉस्को में होने वाली एथलेटिक्स की विश्व चैंपियनशिप से हट रहे हैं.

दूसरी ओर 100 मीटर में पूर्व विश्व रिकॉर्ड धारक असाफ़ा पावेल ने जानबूझ कर नियम तोड़ने वाली दवाओं के सेवन से इंकार किया है.

पॉज़िटिव नमूना

टायसन गे को अमरीका की एंटी डोपिंग एजेंसी ने शुक्रवार को सूचित किया कि मई में लिया गया उनका ए नमूना मादक द्रव्यों के लिए पॉज़िटिव आया है. ये नमूना किसी प्रतियोगिता के दौरान नहीं लिया गया था.

वहीं असाफ़ा पावेल इस साल जून में जमैका में प्रतियोगिता के दौरान एक प्रतिबंधित दवाई के लिए पॉज़िटिव पाए गए.

जमैका के एक और खिलाड़ी शिरॉन सिंपसन भी ड्रग टेस्ट में फेल हो गए.

सिंपसन पिछले साल लंदन ओलंपिक में 4x400 मीटर रेस में रजत पदक जीतने वाली जमैका की टीम का हिस्सा थे. उनके और पावेल दोंनो के ही नमूनों में ऑक्सीलोफ़्रीन पाया गया.

एक महीने पहले ही जमैका की एक और खिलाड़ी, ओलंपिक चैंपियन वेरोनिका कैंपबैल-ब्राउन के नमूने में एक प्रतिबंधित डायूरेटिक पाया गया था.

पावेल का इंकार

साल 2008 में जमैका के ही यूसेन बोल्ट के 100 मीटर दौड़ में नया रिकॉर्ड बनाने से पहले ये रिकॉर्ड असाफ़ा पावेल के नाम था. वे आज भी इस दूरी में दुनिया के चार सबसे तेज़ धावकों में शुमार हैं. वे 2008 बीजिंग ओलंपिक में 400 मीटर रीले रेस का स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम का हिस्सा थे.

इस साल उन्होंने 100 मीटर रेस में 9.88 सेकंड का समय निकाला लेकिन वे अगले महीने होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिए जमैका की टीम में शामिल होने में असफल रहे.

एक बयान में पावेल ने कहा, "मैं अपने परिवार, दोस्तों और ख़ासकर दुनिया भर में अपने फैन्स से साफ़ कहना चाहता हूं कि मैं कभी भी जानबूझ कर प्रतिबंधित पदार्थ या सप्लीमेंट्स नहीं लिए हैं. मैंने न ही आज और न ही इससे पहले कभी बेईमानी की है."

बी नमूने के नतीजे का इंतज़ार

साल 2013 के दुनिया के सबसे तेज़ इंसान, टायसन गे, अपने बी नमूने के नतीजों का इंतज़ार कर रहे हैं. लेकिन उन्होंने विश्व चैंपियनशिप से अपना नाम वापस ले लिया है.

गे का कहना था, "मैंने किसी पर विश्वास किया और उसने मुझे धोखा दिया. मुझे पता है कि क्या हुआ लेकिन मैं फिलहाल उसके बारे में बात नहीं कर सकता."

उन्होंने आगे कहा, "मैं उम्मीद करता हूं कि मैं भविष्य में फिर से दौड़ सकूंगा लेकिन मुझे जो भी सज़ा मिलेगी, मैं उसे स्वीकार करूंगा."

टायसन गे के वक्तव्य पर प्रतिक्रिया देते हुए अमरीकी डोपिंग रोधी संस्था, यूएसएडीए, द्वारा जारी वक्तव्य में कहा गया है, "जिस तरह से टायसन गे ने इस स्थिति को संभाला है और अपने टेस्ट के नतीजों की पूरी तरह जांच होने तक खुद प्रतियोगिता से हटने के फैसला किया है, हम उसकी कद्र करते हैं."

साल 2011 में एक ऑपरेशन के बाद टायसन गे लगभग एक साल तक नहीं दौड़े थे. लेकिन इस साल अब तक उनका प्रर्दशन शानदार रहा है.

मई में जमैका इंविटेशनल एथलेटिक्स प्रतियोगिता में उन्होंने 100 मीटर रेस 9.86 सेकंड में जीती और उसके अगले महीने, अमरीका के विश्व चैंपियनशिप ट्रायल्स में उन्होंने 9.75 सेकंड का समय निकाला. इसके बाद लॉसेन में डायमंड लीग प्रतियोगिता में उन्होंने 100 मीटर रेस 9.79 सेकंड में जीती.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार