सचिन इतनी जल्दी क्रिकेट नहीं छोड़ेंगे: रवि शास्त्री

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के संन्यास को लेकर ख़बरों का बाज़ार भले ही गर्म हो, लेकिन एक ज़माने में उनके साथ खेल चुके रवि शास्त्री को लगता है कि सचिन अभी संन्यास लेने से दूर हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार रवि शास्त्री को लगता है कि सचिन तेंदुलकर शायद अगले वर्ष इंग्लैंड से होने वाली टेस्ट श्रंखला में भाग ले सकते हैं.

उन्होंने कहा, "जैसा की आप सब को लगता रहा है, सचिन अभी क्रिकेट को अलविदा नहीं कहेंगे और खेलते रहेंगे. आप सब उन्हें अगले वर्ष लॉर्ड्स के मैदान पर होने वाले टेस्ट मैच में खेलते देखेंगे".

मुंबई शहर के बॉम्बे जिमखाना में दिलीप सरदेसाई मेमोरियल लेक्चर देते वक़्त 51 वर्षीय रवि शास्त्री ने सचिन के बारे में अपनी बेबाक राय रखी.

पिछले कुछ महीनों में निरंतर कयास लगते रहे हैं कि 40 वर्ष के सचिन तेंदुलकर, जो अपने 200 वें टेस्ट मैच से मात्र दो टेस्ट दूर हैं, ये कीर्तिमान हासिल करते ही क्रिकेट से संन्यास ले सकतें हैं.

करीबी

हालांकि कुछ क्रिकेट समीक्षकों का मत है कि रवि शास्त्री सचिन तेंदुलकर के बेहद करीबी लोगों में से एक हैं और उनके इस तरह के बयान के पीछे कोई वजह या सच्चाई ज़रूर हो सकती है.

Image caption सचिन पिछले 21 टेस्ट मैचों में शतक नहीं लगा सके हैं.

इससे पहले भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने वेस्टइंडीज़ के खिलाफ़ भारत में ही दो टेस्ट मैचों की श्रंखला आयोजित करने की घोषणा की थी.

माना जा रहा था कि एकदिवसीय क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले चुके सचिन तेंदुलकर 200 टेस्ट मैचों काकीर्तिमान पूरा करने के बाद शायद संन्यास लेंगे.

वैसे इसी वर्ष के नवंबर महीने में भारतीय टीम का दक्षिण अफ़्रीकी दौरा पहले ही तय चुका था लेकिन वेस्टइंडीज़ के साथ श्रंखला के फ़ैसले के बाद हो सकता है उसे दिसंबर तक के लिए बढ़ाना पड़ जाए.

रवि शास्त्री ने आगामी दौरों पर बात करते हुए इस बात के संकेत दिए कि हो सकता है दोनों दौरे ही संभव हों.

उन्होंने कहा, "आपस में बातचीत की शायद थोड़ी कमी थी लेकिन दक्षिण अफ़्रीका में भारतीय टीम कुछ तो क्रिकेट खेलेगी ही".

बहराल, जब भारत ने साल 2010-2011 में दक्षिण अफ्रीका का दौरा किया था तब सचिन तेंदुलकर ने अपने टेस्ट करियर का 50वां और 51वां शतक लगाया था.

यही नहीं, सचिन ने अपना आखिरी शतक 2 जनवरी 2011 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन में जमाया था और उसके बाद वह 21 टेस्ट मैच खेल चुके है लेकिन शतक नही जमा पाए है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिककरें. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करेंट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार