आईसीसी ने भी कहा सचिन महान खिलाड़ी

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल ने सचिन तेंदुलकर को अद्वितीय खेल प्रतिभा कहते हुए उनका सम्मान किया है.

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन ने कहा है कि सचिन जैसी खेल प्रतिभाएं बहुत दुर्लभ होती हैं.

रिचर्डसन का कहना था, "सचिन एक ऐसे अपवाद हैं जिन्हें दुनिया भर में अपने दोस्तों, साथी खिलाड़ियों, विरोधियों और प्रशंसकों का इस हद तक प्यार और सम्मान मिला है. ये सम्मान उनकी प्रतिभा, खेल भावना और उतकृष्ट प्रदर्शन की वजह से मिला है."

रिचर्डसन दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर-बल्लेबाज़ रह चुके हैं और सचिन तेंदुलकर के विरुद्ध 1991 से 1998 के बीच दस टेस्ट मैज और 26 एकदिवसीय मैच खेल चुके हैं.

रिचर्डसन ने अपने बयान में कहा, "चौबीस साल में 664 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सचिन द्वारा बनाए गए 34,357 रन, सौ शतक और ऐसे ही न जाने कितने रिकॉर्ड्स खेल के प्रति न सिर्फ उनके समर्पण और दृढ़ निश्चय को दिखाता है बल्कि उनकी बौद्धित और शारीरिक मजबूती का भी परिचायक है. ये वही चीजें हैं जो किसी भी खेल में खिलाड़ी को शिखर तक पहुंचाती हैं."

बेहतरीन खिलाड़ी

रिचर्डसन ने अपने बयान में सचिन तेंदुलकर के शानदार दौर की तमाम घटनाओं का भी ज़िक्र किया है.

उनका कहना है, "अपने सर्वश्रेष्ठ दौर में सचिन तेंदुलकर ने हमेशा अपनी टीम को आगे रखा और इस दौरान उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किए."

रिचर्डसन ने अपने बयान में सचिन की तमाम उपलब्धियों और रिकॉर्डों का भी ज़िक्र किया है.

सचिन तेंदुलकर ने शनिवार को वेस्टइंडीज के साथ खेले गए दूसरे टेस्ट मैच की समाप्ति के साथ ही अपने 24 साल के क्रिकेट करियर को अलविदा कह दिया.

दो मैचों की ये श्रृंखला भारत ने वेस्टइंडीज से 2-0 से जीत ली है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें . आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार