टेस्ट मैच देखने पहुंचे रिकॉर्ड लोग

  • 26 दिसंबर 2013
मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच गुरुवार को एशेज़ सिरीज़ के चौथे टेस्ट के पहले दिन का खेल देखने के लिए 91 हज़ार से ज़्यादा दर्शक जमा हुए जो एक विश्व रिकॉर्ड है.

मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड, एमसीजी, पर खेले जा रहे टेस्ट मैच को देखने 91,092 फैन्स स्टेडियम में मौजूद थे.

समाचार एजेंसी एपी के मुताबिक इससे पहले एक दिन में टेस्ट मैच देखने पहुंचे दर्शकों की रिकॉर्ड संख्या 90,800 थी.

ये रिकॉर्ड 1961 में वेस्ट इंडीज़ और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांचवे टेस्ट मैच के दूसरे दिन एमसीजी पर ही बना था.

दिलचस्प बात ये है कि पिछले सप्ताह पर्थ में तीसरा टेस्ट मैच जीतकर मेज़बान ऑस्ट्रेलिया पहले ही एशेज़ पर कब्ज़ा कर चुकी है. इसके बावजूद ऑस्ट्रेलियाई फ़ैन्स अपनी टीम को देखने के लिए रिकॉर्ड संख्या में पहुंचे.

इसकी वजह ये हो सकती है कि मौजूदा सिरीज़ से पहले ऑस्ट्रेलिया की टीम लगातार तीन बार एशेज़ शृंखला हार चुकी था और इसलिए इस जीत ने फ़ैन्स में नया उत्साह भर दिया है.

'विरला अनुभव'

स्थानीय समय शाम चार बज कर 15 मिनट पर स्टेडियम के स्कोरबोर्ड पर विश्व रिकॉर्ड का संदेश दिखाया गया.

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ रयान हैरिस ने कहा, "नब्बे हज़ार से ज़्यादा लोगों के सामने खेलना....स्टेडियम में शोर की आवाज़ अविश्वसनीय थी."

दिन का खेल ख़त्म होने के बाद पत्रकार सम्मेलन में हैरिस ने कहा, "टीम के सदस्य बेहद उत्साहित हैं कि वे इतने सारे लोगों के सामने खेले. और स्टेडियम में शोर तो अविश्वसनीय था. ख़ासकर आखिर में जब मिचेल जॉनसन गेंदबाज़ी करने आए."

इंग्लैंड के उप कप्तान इयन बेल का कहना था कि इतने बड़ी भीड़ के सामने खेलना एक विरला अनुभव था.

बेल ने कहा, "बतौर एक खिलाड़ी आप इस अनुभव को कभी नहीं भूलेंगे. इसलिए मैं मानता हूं कि एमसीजी में खेलने का कोई भी मौका मिलना बहुत शानदार होता है."

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेम्स सदरलैंड ने कहा, "हम मेलबर्न के क्रिकेट से प्यार करने वाले लोगों और मेलबर्न क्रिकेट क्लब को धन्यवाद और बधाई देना चाहते हैं कि उन्होंने कुछ ख़ास किया है. आने वाले सालों में शहर के निवासी 2013 के बॉक्सिंग डे को उस दिन के तौर पर याद करेंगे जब उनके शहर ने खेल इतिहास बनाया."

एमसीजी की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक स्टेडियम में ज़्यादा से ज़्यादा एक लाख लोग बैठ सकते हैं. लेकिन इस स्टेडियम में फ़ुटबॉल और ऑस्ट्रेलियाई नियमों वाली फुटबॉल के मैचों के लिए इससे भी ज़्यादा लोग जुटे हैं.

(बीबीसी हिंदी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित समाचार