डरबन: भारतीय टीम पहली पारी में 334 पर सिमटी

भारतीय बल्लेबाज

डरबन टेस्ट के दूसरे दिन दक्षिण अफ़्रीका के अनुभवी तेज़ गेंदबाज़ डेल स्टेन की शानदार गेंदबाज़ी की बदौलत दक्षिण अफ़्रीकी टीम भारत को 334 रन के स्कोर पर रोकने में कामयाब रही. डेल स्टेन ने भारत के छह विकेट झटके.

गुरूवार को पहले दिन का खेल ख़त्म होने तक भारत ने एक विकेट के नुक़सान पर 181 रन बनाए थे. बारिश के कारण दूसरे दिन के पहले सत्र में एक भी ओवर नहीं फेंका जा सका.

दूसरे सत्र में जब खेल शुरू हुआ तो स्टेन और मोर्कल ने पिच के बदले मिज़ाज का फ़ायदा उठाते हुए भारत को एक के बाद एक झटके दिए.

दूसरे दिन भारत की शुरूआत ख़राब रही और 91 रन से पारी शुरु करने वाले मुरली विजय आज सिर्फ़ छह रन ही अपने स्कोर में जोड़ सके. वे 97 बनाकर आउट हो गए. चेतेश्वर पुजारा ने भारतीय पारी में 70 रन का योगदान दिया.

वहीं पहली पारी में दक्षिण अफ़्रीका ने सधी हुई शुरूआत करते हुए बिना किसी विकेट के नुक़सान के 82 रन बना लिए हैं.

दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अफ़्रीकी ओपनर ग्रीम स्मिथ 35 और पीटरसन 46 रन बनाकर नाबाद रहे.

भारतीय बल्लेबाज़

दूसरे दिन की शुरुआत होते ही भारत के तीन विकेट गिर जाने के बाद भारत की पारी को अजिंक्य रहाणे ने संभाला. उन्होंने नाबाद 51 रन बनाए. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी सिर्फ़ 24 रन ही बना सके. एक समय भारत का स्कोर था पाँच विकेट के नुक़सान पर 320 रन लेकिन भारत के अंतिम पाँच विकेट मात्र 14 रन के अंतराल पर ही गिर गए. रोहित शर्मा, रविंद्र जडेजा और ज़हीर ख़ान अपना खाता भी नहीं खोल सके.

शुरुआत में भारत मज़बूत स्थिति में दिख रहा था लेकिन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का विकेट 320 रन के स्कोर पर गिर जाने के बाद विकेट एक के बाद एक गिरते चले गए.

भारत और दक्षिण अफ़्रीका के बीच जारी दो टेस्ट मैचों की सीरीज़ का यह अंतिम मैच है. इससे पहले खेला गया पहला टेस्ट मैच ड्रा हो गया था. उस मैच में अफ़्रीका मात्र आठ रनों से जीत से चूक गया था.

डरबन मैदान पर अब तक भारत और दक्षिण अफ़्रीका के बीच कुल चार टेस्ट मैच खेले गए हैं जिनमें से दो भारत हारा है, एक में जीत मिली है और एक ड्रॉ रहा है.

भारत के सलामी बल्लेबाज़ शिखर धवन इस मैच की भी पहली पारी में नाकाम रहे हैं. इसी साल मार्च में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ मोहाली टेस्ट में 187 रन की पारी से टेस्ट करियर का आगाज़ करने वाले धवन पिछली चार पारियों में एक भी अर्धशतक नहीं लगा सके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार