अब मचेगा ट्वेंटी ट्वेंटी क्रिकेट का घमासान

विराट कोहली इमेज कॉपीरइट AFP

बांग्लादेश में रविवार से आईसीसी वर्ल्ड ट्वेंटी-ट्वेंटी क्रिकेट टूर्नामेंट शुरू होने जा रहा है. इस बार इसकी विशेषता है, इसमें पहली बार शामिल की गई 16 टीमें.

भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, दक्षिण अफ़्रीक़ा, इंग्लैंड, न्यूज़ीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज़ को सीधे सूपर-10 में जगह दी गई है. मेज़बान बांग्लादेश, अफ़ग़ानिस्तान, नेपाल, हॉन्ग-कॉन्ग, ज़िम्बाब्वे, आयरलैंड, सयुंक्त अरब अमीरात और हॉलैंड इससे पहले ग्रुप स्टेज के मैच खेलेंगी.

(क्रिकेटरों के घर में घुसी लड़कियाँ)

और इनमें से दो टीमें सूपर-10 के लिए क्वालिफ़ाई करेंगी. इस टूर्नामेंट में पहले दिन 16 मार्च को दो मैच खेले जाएंगे. पहले मैच में मेज़बान बांग्लादेश का सामना अफ़ग़ानिस्तान से और दूसरे मैच में नेपाल का सामना हॉन्ग-कॉन्ग से होगा. इस ग्रुप स्टेज के मुक़ाबले 21 मार्च तक आयोजित किए जाएंगे.

वैसे 21 मार्च को तीन मैच खेले जाने हैं. एक मैच में ज़िम्बाब्वे का सामना संयुक्त अरब अमीरात से होगा तो दूसरे मैच में आयरलैंड का सामना हॉलैंड से होगा. इसी दिन तय हो जाएगा कि ग्रुप स्टेज में भिड़ने वाली आठ टीमों में से कौन सी दो टीमें सूपर-10 में जगह बनाने में कामयाब हुई हैं.

पहला ट्वेंटी-ट्वेंटी

इमेज कॉपीरइट AP

वैसे भारत के लिए भी 21 मार्च बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि इसी दिन भारत वर्ल्ड ट्वेंटी-ट्वेंटी क्रिकेट टूर्नामेंट में अपने अभियान का आगाज़ करेगा और वह भी अपने पंरम्परागत प्रतिद्वंदी पाकिस्तान के ख़िलाफ़.

(विवादों के चौके-छक्के)

अब ये बात अलग है कि पिछले दिनों एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट में पाकिस्तान ने भारत को पराजित कर दिया था. लेकिन ये भी एक अजीब इत्तेफ़ाक़ है कि आज तक पाकिस्तान ने भारत को विश्व कप के किसी भी प्रारूप में पराजित नही किया है.

1975 में पहली बार एकदिवसीय क्रिकेट का विश्व कप आयोजित हुआ था. ट्वेंटी-ट्वेंटी का विश्व कप पहली बार दक्षिण अफ़्रीक़ा में साल 2007 में हुआ जिसे भारत ने अपने नाम किया था. क्रिकेट के इतने सारे विश्व कप में कई बार भारत और पाकिस्तान का सामना हुआ.

धोनी की अगुवाई

इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान इस दौरान विश्व चैम्पियन भी बना लेकिन इस दौरान हर बार पाकिस्तान को भारत के हाथों हार का सामना करना पड़ा. ट्वेंटी-ट्वेंटी का प्रारुप ऐसा है कि इसके बारे में पहले से भविष्यवाणी नही की जा सकती कि कौन सी टीम चैम्पियन बनेगी.

(वेलकम बैक युवराज)

और इस बार तो मुख्य टीमों का आमना-सामना होने में बहुत समय है. भारतीय क्रिकेट टीम पाकिस्तान से होने वाले अपने पहले मुक़ाबले से पहले दो अभ्यास मैच भी खेलेगी. इनमें वह एक मैच श्रीलंका के ख़िलाफ़ 17 मार्च को और दूसरा अभ्यास मैच 19 मार्च को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ खेलेगी.

भारतीय क्रिकेट टीम कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में शुक्रवार को बांग्लादेश के लिए रवाना हुई. टीम में शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, सुरेश रैना, युवराज सिंह, अजिंक्य रहाणे, रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, स्टुअर्ट बिन्नी, अमित मिश्रा, मोहित शर्मा और वरूण ऐरोन शामिल हैं.

लगातार छह छक्के

इमेज कॉपीरइट AP

काग़ज़ पर और अनुभव के आधार पर यह टीम निश्चित रूप से कहीं से भी कम नहीं लगती लेकिन भरोसे के नाम पर इस टीम के पास कुछ नहीं है. इस साल की शुरूआत से ही यह टीम हारती रही है. टीम में कुछ चमत्कारी नाम भी शामिल है.

(बेहतरीन पारी से भारत जीता)

युवराज सिंह जैसे बल्लेबाज़ हैं, जिनके नाम एक ही ओवर में लगातार छह छक्के लगाने का रिकॉर्ड है तो सुरेश रैना भी हैं जो क्रिकेट के इस सबसे छोटे प्रारूप में शतक तक लगा चुके हैं लेकिन ये सब पुरानी बातें हैं. भारतीय क्रिकेट टीम किसी भी सवाल का जवाब दिए बिना बांग्लादेश पहुंची है.

कुछ ऐसा ही उसने पिछले साल आईपीएल समाप्त होने के बाद इंग्लैंड में चैंपियंस ट्रॉफ़ी खेलने के लिए रवाना होने से पहले किया था. सवाल आज भी आईपीएल से जुड़े हुए ही हैं लेकिन तब कप्तान महेंद्र सिंह धोनी चैम्पियन बनकर उभरे और बात आई-गई हो गई.

अब एक बार फिर हालात वैसे ही हैं और टीम चैम्पियन बनकर ही अपने आलोचकों को जवाब दे सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार