ट्वेंटी-20: भारत उत्साह में, वेस्टइंडीज़ तैयार

  • 23 मार्च 2014
भारत क्रिकेट 20-20 Image copyright AFP

बांग्लादेश में खेले जा रहे वर्ल्ड ट्वेंटी-20 क्रिकेट विश्व कप में सुपर 10 के अहम मुक़ाबले में रविवार को भारत का सामना वेस्टइंडीज़ से होगा. वर्ल्ड ट्वेंटी-20 का यह कुल मिलाकर 17वां मैच होगा लेकिन वेस्टइंडीज़ का पहला.

भारत का यह सुपर 10 का दूसरा मैच होगा क्योंकि इससे पहले भारत ने शुक्रवार को अपने पहले मुक़ाबले में पाकिस्तान को आसानी से सात विकेट से मात दी थी.

ट्वेंटी-20 विश्व कप: भारत ने पाकिस्तान को हराया

इसके साथ ही भारत ने विश्व कप के हर प्रारूप में पाकिस्तान के ख़िलाफ अपने अजेय रिकार्ड को बरक़रार रखा. पाकिस्तान की टीम के सिर पर विश्व कप में भारत के ख़िलाफ हार का भूत वर्तमान में भी भारी साबित हुआ.

पाकिस्तान के ख़िलाफ मिली जीत का भारत को बेहद लाभ मिला. एक तो टीम लम्बे समय से एक के बाद एक हार का सामना करते हुए अपने प्रशंसकों का भरोसा खो रही थी. दूसरी तरफ टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की लगातार आलोचना हो रही थी कि वह अपने चहेते खिलाड़ियों को टीम में अधिक अवसर देते हैं जिससे टीम का संतुलन ख़राब होता है.

अब जब टीम ने पाकिस्तान जैसी मज़बूत टीम के ख़िलाफ जीत हासिल की है तो कम से कम अब भारतीय टीम उत्साह के साथ वेस्टइंड़ीज़ के ख़िलाफ़ मैदान में उतर सकती है.

गेंदबाज़ों की साख दांव पर

Image copyright

वैसे वेस्टइंड़ीज़ ट्वेंटी-20 प्रारूप में सबसे ख़तरनाक टीमों में से एक है. इसके साथ-साथ वह पिछली चैंपियन भी है. इसलिए उस पर जीत हासिल करना आसान नहीं होगा.

वेस्टइंडीज़ की टीम की सबसे बडी ताक़त उसके सलामी बल्लेबाज़ क्रिस गेल हैं. अगर गेल का बल्ला चल निकला तो फिर तो वह अकेले ही मैच जिताने के लिए काफ़ी है.

गेल अभी तक 37 अंतराष्ट्रीय टवेंटी-20 मैच खेल चुके हैं. उनका स्ट्राइक रेट 140.33 है और वह अभी तक 1096 रन बना चुके हैं जिसमें उनका एक शतक और 10 अर्धशतक भी शामिल हैं.

गेल के अलावा वेस्टइंडीज़ की टीम को मज़बूती देने के लिए डवेन स्मिथ, डवेन ब्रावो, लैंडल सिंमंस और कप्तान डेरेन सैमी जैसे दूसरे बल्लेबाज़ भी हैं.

ट्वेंटी-20: अभ्यास मैच में इंग्लैंड से जीता भारत

इसके अलावा गेंदबाज़ी में उनके पास जादूई गेंदबाज़ सुनील नारायन हैं. रवि रामपाल बेहद अनुभवी हैं तो आंद्रे रसेल भी किसी से कम नहीं.

दूसरी तरफ भारत के रोहित शर्मा और शिखर धवन की सलामी जोड़ी लम्बे समय बाद पाकिस्तान के ख़िलाप अच्छी शुरुआत देने में कामयाब रही. इनके लगातार नाकाम होने से इसे बदलने की बात भी उठने लगी थी.

रैना का प्रदर्शन

Image copyright AP

विराट कोहली एक बार फिर उपयोगी साबित हुए और उन्होंने पाकिस्तान के ख़िलाफ नाबाद 36 रन बनाए लेकिन भारत के कप्तान धोनी को सबसे अधिक राहत सुरेश रैना के फार्म में आने से ली होगी.

रैना ने शानदार फील्डिंग करते हुए पाकिस्तान के ख़िलाफ़ तीन कैच पकड़े तो बाद में बल्लेबाज़ी करते हुए नाबाद 35 रन भी बनाए.

अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या भारत के कप्तान धोनी वेस्टइंड़ीज़ के ख़िलाफ भी तीन स्पिनर और दो तेज़ गेंदबाज़ खिलाने की रणनीति के साथ मैदान में उतरते हैं.

अमित मिश्रा ने दिखा दिया है कि अगर कप्तान उन पर भरोसा करे तो वह भी टीम का हिस्सा बन सकते हैं.

ट्वेंटी-20: बांग्लादेश ने अफ़ग़ानिस्तान को नौ विकेट से हराया

मैच के बाद अमित मिश्रा ने कहा भी कि धोनी ने उनसे कहा कि वह अधिक न सोचें और अपनी स्ट्रेंथ पर गेंदबाज़ी करें. इसके बाद उन्होंने अपनी फ्लाइट से बल्लेबाज़ों को बीट किया जिसका लाभ उन्हें मिला.

दूसरी तरफ वेस्टइंडीज़ के ड्वेन स्मिथ ने मैच से पहले कहा कि उनके खिलाड़ी पूरी दुनिया के ख़िलाफ़ पिछले कुछ समय से इकट्ठे खेल रहे हैं जिससे टीम को लाभ होगा.

उन्होंने कहा, "इसके अलावा कुछ खिलाड़ियों के पास आईपीएल का भी अनुभव है. वैसे तो ट्वेंटी-ट्वेंटी एक रोमांचक खेल है जिसके बारे में पहले से कुछ नहीं कहा जा सकता, लेकिन पिछला चैंपियन होने के कारण इस बार भी हमारा दावा मज़बूत है. इसके अलावा अभ्यास मैचों में भी हम शानदार खेले."

अब देखना है कि भारत और वेस्टइंडीज़ जब मीरपुर में आमने-सामने होंगे तो जीत की बाज़ी किसके हाथ लगती है. इस मैच में एक बार फिर भारतीय गेंदबाज़ों की साख दांव पर होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार