आईपीएल-7 फ़ाइनल: 'सभी टिकट बिक चुके हैं'

आईपीएल7 क्रिकेट, पंजाब किंग्स इलेवन इमेज कॉपीरइट PTI

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर भले ही आईपीएल के सातवें संस्करण में फाइनल में न पहुँची हो, बैंगलोर के लोगों के उत्साह में कोई कमी नहीं दिखती.

लोगों को उम्मीद है कि उन्हें रविवार को अच्छा क्रिकेट देखने को मिलेगा. आख़िरकार, मुक़ाबला शाहरुख़ ख़ान की टीम कोलकाता नाइट राइडर्स और प्रीति जिंटा की टीम किंग्स इलेवन पंजाब के बीच है.

सुनने में भले ही यह अजीब लगे लेकिन आईपीएल के फ़ाइनल के लिए शनिवार को टिकट खिड़की पर लगी भीड़ में ज़्यादातर दर्शक इसलिए टिकट ले रहे थे क्योंकि वो या तो शाहरुख़ ख़ान के फैन थे या प्रीति जिंटा के! इनके बाद ही वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर और ग्लेन मैक्सवेल का नंबर आता है.

बैंगलोर में पढ़ाई कर रहे अरुणाचल प्रदेश के इंजीनियरिंग के छात्र ग्बे-एटा ने बीबीसी हिन्दी से कहा, "मैं पंजाब का समर्थन करता हूँ क्योंकि मुझे प्रीति ज़िंटा पसंद हैं."

जब उनसे यह पूछा गया कि क्या उन्हें कोई खिलाड़ी नहीं पसंद है तो वो बोले, "मुझे वीरेंद्र सहवाग पसंद हैं क्योंकि वो कल बहुत अच्छा खेले."

'कोई भी जीते, ख़ुशी होगी'

इमेज कॉपीरइट PTI

पेशे से कारोबारी हबीबुर रहमान का जवाब थोड़ा अलग था. वो बोले, "मैं तो केवल शाहरुख की टीम को सपोर्ट करता हूँ, किसी खिलाड़ी को नहीं."

आगे उन्होंने कहा, "यूसुफ़ पठान, छक्के चौके लगाते हैं, सहवाग भी मुझे पसंद हैं लेकिन दूसरी तरफ़ शाहरुख़ हैं."

एक मल्टीनेशनल आईटी कंपनी में काम करने वाली अंकिता दुबे ने बताया कि उन्होंने फ़ाइनल के लिए चार टिकट ख़रीदे हैं और स्टेडियम में मैच देखना का फ़ैसला इसलिए लिया क्योंकि वो ग्लेन मैक्सवेल की फैन हैं.

उन्होंने बताया कि पंजाब के साथ ही वो कोलकाता का भी समर्थन करती रही हैं. वो कहती हैं, "मैं शाहरुख़ ख़ान की बहुत बड़ी फैन हूँ. मेरा झुकाव शाहरुख़ की तरफ़ ज़्यादा है क्योंकि उनकी टीम में गौतम गंभीर भी हैं."

हालांकि वो कहती हैं कि 'कोई भी टीम जीते' उन्हें ख़ुशी होगी.

'सभी टिकट बिक चुके हैं'

इमेज कॉपीरइट BBC Imran Qureshi

स्टेडियम के आसपास लोगों में उत्साह साफ़ दिख रहा था. लोग अपनी-अपनी गाड़ियाँ धीमी करके टिकट खिड़कियों पर हाथ से लिखे नोटिस को देख रहे थे, जिसमें लिखा था, "सभी टिकट बिक चुके हैं."

कुछ लोगों ने देखा कि एक टिकट खिड़की पर टिकट बिक रहे हैं. कई लोग ने मुझसे एटीएम का पता पूछा. ऐसे ही कुछ लोग अपने किसी साथी को टिकट की क़तार में खड़ा करके आधे किलोमीटर दूर स्थित एटीएम चले गए.

कर्नाटक क्रिकेट संघ के एक पदाधिकारी ने नाम न ज़ाहिर करने की शर्त पर कहा, "सभी टिकट बिक चुके हैं. तक़रीबन 40,000 दर्शकों के आने की उम्मीद है."

स्वतंत्र क्रिकेट सांख्यिकीविद एचआर गोपालकृष्णन इस बात से बिल्कुल हैरान नहीं हैं कि बैंगलोर के क्रिकेट प्रेमी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के अलावा दूसरी टीमों में रुचि दिखा रहे हैं.

वे कहते हैं, "हो सकता है कि कुछ लोग कोलकाता को सपोर्ट कर रहे हों क्योंकि उनकी टीम में बैंगलोर के खिलाड़ी (रॉबिन उथप्पा, मनीष पांडेय और विजय कुमार) हैं. लेकिन अगर बैंगलोर की टीम न खेल रही हो ते यहाँ के लोग हमेशा ही खुले दिल से दूसरी टीमों को सपोर्ट करते हैं."

वे कहते हैं, "कुछ समय पहले एक मैच में ढेर सारे दर्शक रॉस टेलर के लिए चियर कर रहे थे जबकि वो मैच बैंगलर में नहीं हो रहा था."

सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद

इमेज कॉपीरइट BBC Imran Qureshi

एक तरफ़ आईपीएल फाइनल को लेकर क्रिकेट प्रेमियों का उत्साह जितना बढ़ता जा रहा है वहीं दूसरी ओर पुलिस ने स्टेडियम के चारों तरफ़ सुरक्षा व्यवस्था का भारी बंदोबस्त किया है.

अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर), बैंगलोर कमल पंत ने बीबीसी हिन्दी से कहा, "सुरक्षा व्यवस्था बहुत ही चाक-चौबंद रहेगी."

पुलिस ने मैच देखने के लिए आने वाली भीड़ और यातायात के नियंत्रण के लिए पुख्ता इंतज़ाम किया है. रविवार शाम को वैसे भी शहर में अक्सर ही 'भारी' यातायात होता है.

तक़रीबन 1500 पुलिस वालों को सुरक्षा व्यवस्था के लिए तैनात किया गया है. साथ ही बम-निरोधक दस्ता, तोड़फोड़ निरोधक दस्ता और खोजी कुत्तों का दल भी सुरक्षा व्यवस्था में शामिल है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार